rajyasabha

कृषि अध्‍यादेश 2020 लोकसभा और राज्‍यसभा दोनो सदनों पास हो चुका है। इस अध्‍यादेश के पास होते ही पंजाब के रानीतिक दलों में किसान हितैषी होने की होड़ सी लग गई है।

राज्यसभा अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दी गई। सभापति वेंकैया नायडू ने बुधवार को इसकी घोषणा की। कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के कारण समय से पहले मॉनसून सत्र को खत्म किया गया है।

राज्यसभा में कल यानी रविवार को भारी हंगामे और शोर-शराबे के बीच कृषि सुधार से जुड़े दो विधेयकों को ध्वनिमत से मंजूरी मिल गई। कृषि बिल को लेकर संसद से सड़क तक अब भी संग्राम जारी है। इन सब के बीच विपक्षी पार्टियों ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मिलने का समय मांगा है।

केंद्र की मोदी सरकार द्वारा लोकसभा के बाद राज्यसभा से कृषि सम्बन्धी अध्यादेशों को पास करवाने के बाद इसके खिलाफ राज्यसभा में कल काफी हंगामा खड़ा हो गया। इसके चलते सभापति ने विपक्षी दलों के आठ सांसदों को पूरे मॉनसत्र सत्र से निलंबित कर दिया है।

भाजपा और कांग्रेस दोनों की ओर से इन विधायकों को लेकर मोर्चाबंदी की गई है और सभी सांसदों को सदन में मौजूद रहने का व्हिप जारी किया गया है।

संसद में मानसून सत्र का आज चौथा दिन है। राज्यसभा की कार्यवाही शुरू हो गयी है। विपक्ष ने चीन और लद्दाख तनाव पर सरकार को घेरा है।

आज से लोकसभा और राज्यसभा के सचिव काम शुरू करेंगे। इससे पहले कोरोना वायरस के खतरे को देखते मार्च के अंतिम सप्ताह में दोनों सदनों का काम बंद कर दिया गया था।

कोरोना वायरस की खिलाफ में लड़ाई में अब राज्यसभा सचिवालय के अधिकारियों और कर्मचारियों भी आगे हैं। सभी कम से कम एक दिन अपनी सेलरी दान करेंगे

संसद के बजट सत्र का दूसरा चरण गुरुवार को जारी है। COVID-19 महामारी के तेजी से फैलते हुए संक्रमण को देखते हुए कांग्रेस ने संसद को स्‍थगित करने की मांग की है।

भारत के पूर्व चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने गुरुवार को विपक्ष के हंगामे के बीच राज्यसभा के सदस्य के रूप में शपथ ली। जैसे ही चीफ जस्टिस शपथ लेने के लिए निर्धारित स्थान पर पहुंचे, विपक्षी सांसदों ने नारे लगाने शुरू कर दिए। इस दौरान विपक्षी दलों ने जमकर हंगामा किया और सदन से वॉक आउट कर गये।