ram mandir

महाराष्ट्र से चलकर दो बसों में सवार 80 नेत्रहीन अयोध्या पहुंचें जहां सभी नेत्रहीनों का अयोध्या विधायक वेद प्रकाश गुप्ता वह भाजपा के कार्यकर्ताओं ने स्वागत किया। वहीं इस दौरान मौजूद सुरक्षा अधिकारियों ने सुरक्षा व्यवस्था के अनुसार रामजन्मभूमि में विराजमान भगवान श्री रामलला का दर्शन कराया।

राम जन्मभूमि पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद राम मंदिर को लेकर तैयारी तेज हो गई है। रामलला के भव्य मंदिर निर्माण के साथ ही शहर का दायरा भी बढ़ाने का प्रस्ताव है। शहर का बढ़ाकर 100 वर्ग किमी किया जाएगा।

अयोध्या में हर वर्ष की तरह इस वर्ष भी आगामी 6 दिसंबर को होने वाले शौर्य दिवस को लेकर विश्व हिन्दू परिषद और रामजन्मभूमि न्यास मतभेद सामने आ रहे हैं।

मुख्यमंत्री ने बैंकों, करेंसी चेस्ट, ए0टी0एम0, ग्राहक सेवा केन्द्रों आदि की सुरक्षा के सम्बन्ध में जिलाधिकारियों, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षकों, रेंज व जोनल पुलिस अधिकारियों से कहा कि इन स्थलों की कड़ी सुरक्षा व्यवस्था सुनिश्चित हो।

सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद राममंदिर बनने का रास्ता साफ़ हो गया है, वहीं अयोध्या की गायों के दिन भी बदलने वाले हैं। अब नगर निगम इन्हें ठंड से बचाने के लिए कोट पहनाने की तैयारी कर रहा है।

झारखंड विधानसभा चुनाव जीतने के लिए बीजेपी कोई कोर कसर नहीं छोड़ना चाहती है। इस कड़ी में बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और गृह मंत्री अमित शाह ने झारखंड में अपने चुनाव प्रचार का आगाज कर दिया है। अमित शाह ने प्रदेश के लातेहार में चुनावी सभा को संबोधित किया।

सवाल है, तो क्या आज फिर कुछ भारतीय मुसलमान एक टूटे ढांचे की आड़ में राष्ट्र को काटेंगे ? मन्दिर विरोध को आधार बनाकर फिर 1947 को दुहराया जायेगा? भारतीयों को जवाब चाहिए|

वहीं अब खबर आ रही है कि सुन्नी वक्फ बोर्ड ने इस पर 26 नवंबर को आखिरी फैसला देने के लिए कहा है। साथ ही ये भी कहा है कि सरकार द्वारा दी गई जमीन को मुस्लिम पक्ष नहीं लेगा।

दरअसल,राज्य सभा सांसद हरनाथ सिंह यादव भगवान कृष्ण के कैद से दुखी हैं, इनका कहना है कि हम जल्द दर्शन करने मथुरा जायेंगे और प्रभु श्री कृष्ण से आदेश लेगें। रामजन्म भूमि की तर्ज पर कृष्ण जन्मभूमि आंदोलन खड़ा करने के लिए आदेश लेंगे।