ranchi

मंत्री रामदास अठावले ने कहा कि राहुल गांधी को चाहिए कि, वे दलित युवती से शादी करें और बाबा साहेब के सपनों को साकार करें। उन्होने कहा कि, अगर राहुल गांधी इंटर कास्ट मैरेज करते हैं तो उनका मंत्रालय योजना के तहत ढाई लाख रुपए की राशि देगा।

केंद्र सरकार के आवास एवं शहरी कार्य मंत्रालय के सचिव दुर्गा शंकर मिश्रा ने रांची स्मार्ट सिटी का दौरा किया। इस दौरान उन्होने रांची में चल रहे निर्माण कार्यों का जायज़ा लिया। केंद्रीय सचिव ने कमांड कंट्रोल एंड कम्यूनिकेशन सेंटर का दौरा भी किया।

रांची को छोड़कर अन्य 23 ज़िलों में दो-दो टीकाकरण केंद्र बनाए गए हैं। रांची में सदर अस्पताल, नामकोम सामुदायिक केंद्र के अलावा रिम्स में सेंटर बनाया गया है।

पिता की गिरती सेहत को देख बेटी चंदा बेहद भावुक हो गईं और पिता से लिपटकर फूट-फूट रोनी लगीं। बेटी को रोता देख पिता लालू भी भावूक हो गए। लेकिन लालू यादव ने चंदा को समझाया और भरोसा दिया वह ठीक हैं और जल्‍द ही जेल से छूटकर घर आ जाएंगे।

प्रदेश अध्यक्ष रामेश्वरम उरांव ने कहा कि अगर प्रधानमंत्री और कृषि मंत्री किसानों की समस्या का समाधान करना चाहते हैं तो कृषि मंत्री को आज ही इस बैठक मने किसानों की बात मान लेनी चाहिए। सभी लोग केंद्र सरकार से यही मांग कर रहे हैं कि इस काले कानून को रद्द करे।

मृतक सूफिया परवीन के सिर का रांची के रिम्स में पोस्टमार्टम कराया गया। पोस्टमार्टम में इस बात की पुष्टि हो गई है कि, सिर और धड़ एक ही युवती की है।

राजधानी रांची के ओरमांझी थाना क्षेत्र में पिछले रविवार को युवती का सिर कटा नग्न शव बरामद किया गया। वारदात के एक सप्ताह बाद भी पुलिस के हाथ खाली हैं।

राजधानी रांची में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के काफिला को रोकने की कोशिश की गई है। उपद्रवी तत्वों ने काफिला में शामिल गाड़ियों पर हमले भी किए हैं। किशोरगंज चौक के पास हुई इस घटना के बाद अफरा-तफरी मच गई। मौके पर मौजूद ट्रैफिक पुलिस और सीएम की सुरक्षा में तैनात जवानों ने मुख्यमंत्री को दूसरे रास्ते से निकाला।

रांची के ओरमांझी थाना क्षेत्र में युवती का धड़ से अलग शव बरामद होने के बाद पुलिस के भी हाथ-पांव फूल गए हैं। वारदात के कई घंटों बाद भी युवती की पहचान नहीं हो सकी है।

झारखंड राजद के प्रदेश उपाध्यक्ष विजय यादव की पहचान पार्टी से कम और लालू रथ से ज्यादा है। अपनी एंबेसडर कार को लालू रथ में तब्दील करने वाले विजय यादव पिछले 24 वर्षों से रांची की सड़कों पर लालू रथ दौड़ा रहे हैं।