ration

जिले के सिकन्दरा तहसील क्षेत्र दुरराजपुर ग्राम सभा के सस्ते गल्ले के दुकानदार द्वारा गाली देने पर ग्रामीणों ने जमकर बवाल काटा। आक्रोशित ग्रामीणों ने...

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को कोरोना संकट से निपटने के लिए गठित टीम 11 के साथ समीक्षा बैठक की। इस दौरान उन्होंने निराश्रितों की मदद के निर्देश दिए। सीएम योगी ने कहा कि यूपी के ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों में बिना राशनकार्ड वाले निराश्रितों का तत्काल राशन कार्ड बनाये ताकि उन्हें पर्याप्त राशन दिया जा सके।

एसोसिएशन के लखनऊ चैप्टर के अध्यक्ष नीरज यादव ने बताया कि संगठन के पदाधिकारियों एवं सदस्यों ने मिलकर 800 गरीब परिवारों को पांच किलो आटा, पांच किलो चावल और एक किलो सरसों का तेल दिया गया।

अगर आपका राशन कार्ड उत्तर प्रदेश के किसी जिले का नही है तो भी आपको आज से राशन मिलेगा। इसके लिए जरूरी नही कि आपके हाथ में राशनकार्ड हो, सिर्फ उसकी संख्या बताइए और लाभ पाइए।

डुमरियागंज के सांसद जगदंबिका पाल ने जिला अधिकारी को वितरण करने के लिए पचास हजार मास्क और दस हजार सेनेटाइजर दिया। जिससे कोरोना वायरस की लड़ाई में किसी प्रकार की कमी ना होने पाए।

लॉकडाउन के दौरान कोई भी भूखा न रहे इसके लिए प्रदेश सरकार ने सभी जिलों के अधिकारियों को लोगों तक मुफ्त में राशन पहुंचाने के सख्त आदेश दिए...

त्रिवेणी नगर स्थित कंट्रोल में राशन लेने के लिए लोग लंबी लाइन खड़े हुए दिखाई दिए ।

कोरोना वायरस से बचने के लिए जिन लोगों को 14 दिन के लिए क्वारंटीन किया गया था, उनको घर छोडने की जिम्मेदारी जिला प्रशासन की होगी। साथ ही 15 दिन का राशन अच्छी तरह से पैकिंग कर दिया जाएगा। इसका बजट पहले ही जिलों को भेज दिया गया था।

लाॅकडाउन के दौरान कथित गरीब भुखमरी के नाम पर सरकार और प्रशासन की नेक पहल की धज्जियाँ उड़ा रहे हैं। भूख से मरने का हवाला देते हुए मदद मांग रहे हैं।

लाॅकडाउन के दौरान कुछ लोग खाद्य सामग्रियों का स्टॉक बनाकर उसे बेच रहे हैं। वहीं उसके बदले घरों में मटन और चिकन बना कर लॉक डाउन का एन्जॉय कर रहे हैं।