Ravi Shankar Prasad

दिल्ली विधानसभा चुनाव सर पर है और इस वक्त विपक्ष पार्टियां एक दूसरे पर हमलावर हैं। पार्टियों के बीच शाहीन बाग का मुद्दा हर रोज गर्मा रहा है। दिल्ली के शाहीन बाग इलाके में पिछले एक महीने से नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ विरोध प्रदर्शन चल रहा है।

दूरसंचार विभाग ने इस वेब पोर्टल के लिए देश के सभी मोबाइल फोन्स का डेटाबेस तैयार किया है, जिसे सेंट्रल इक्विपमेंट आइडेंटिटी रजिस्टर (CEIR) का नाम दिया गया है।

सीएए कानून और राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर को लेकर देशभर में बवाल हो रहा है। इसी बीच केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद  ने कहा है कि तय प्रक्रिया के बाद ही देशभर में एनआरसी लागू किया जाएगा।  उन्होंने कहा, एनआरसी लागू करने के लिए पहले सभी राज्य सरकारों से बात होगा। इसी के साथ उन्होंने कहा कि एनपीआर को लेकर अभी कुछ भी नहीं कह सकते। एनपीआर के बारे में सरकार सोच भी सकती है और नहीं भी।

रविशंकर प्रसाद ने कहा कि हमने पिछली सरकार में इस बिल को लोकसभा से पारित किया था लेकिन राज्यसभा में यह बिल पेंडिंग रह गया था। उन्होंने कहा कि संविधान की प्रक्रियाओं के अनुसार हम बिल को फिर से लेकर आए हैं।

केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने लोकसभा में भारी हंगामे के बीच यह बिल पेश किया। सरकार के पिछले कार्यकाल में भी तीन तलाक पर बिल लाया गया था लेकिन लोकसभा से पारित हो जाने के बाद यह बिल राज्यसभा से पास नहीं हो पाया था।

उन्होंने कहा, "नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में पुन: सरकार बनने पर वह प्रभु का आशीर्वाद लेने यहां आए हैं ताकि केन्द्र सरकार निर्बाध रूप से देश में काम करती रहे।"

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कांग्रेस पार्टी पर हमला करते हुए कहा, दिग्विजय सिंह ओसामा और हाफिज सईद को जी बोलते हैं। दिग्विजय सिंह पुलवामा आतंकी हमले को दुर्घटना बता रहे हैं। क्या दिग्विजय सिंह का स्तर इतना खराब हो गया है कि उनको भीषण आतंकी हमला दुर्घटना लगता है।

 कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने पश्चिम बंगाल की ममता सरकार पर निशाना साधते हुए कहा, ममता के लिए राजदार को बचाना जरूरी है। ममता बनर्जी भ्रष्‍ट लोगों को बचा रही हैं। बदले की राजनीति के आरोप बेबुनियाद हैं। बंगाल में बीजेपी की बढ़ती लोकप्रियता से ममता घबरा गई हैं।