red alert

बर्फबारी, ठंड, बारिश और ओला पड़ने पूरे उत्तर भारत में लोगों का जनजवीन प्रभावित हुआ। कोहरे की वजह से लोगों की आवाजाही पर भी असर पड़ रहा है। कोहरे की वजह से कई ट्रेनें लेट चल रही हैं। विमानों के उड़ान पर भी प्रभाव पड़ रहा है।

देश के कई राज्यों से मानसून ने विदाई ले ली है। लेकिन कई हिस्सों में अब भी बारिश का कहर जारी है। वहीं मौसम विभाग ने लक्षद्वीप में दो दिनों के लिए रेड अलर्ट जारी किया है। वहीं

मौसम विभाग ने अलर्ट जारी कर दिया है। वैज्ञानिकों का कहना है कि अगले 24 घंटों में कोंकण और गोवा और दक्षिण गुजरात के तटीय जिलों में कई स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है।

कई इलाकों में 200 मिमी तक बारिश होने का अनुमान है। अरब सागर में 40 से 50 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवाओं के बीच 3.5 से 4 मीटर ऊंची लहरें उठ सकती हैं। इसे देखते हुए मछुआराें समुद्र में न जाने की सलाह दी गई है।

हिंद महासागर के पूर्वी भूमध्यरेखीय हिस्से और समीपवर्ती बंगाल की खाड़ी के दक्षिण-पूर्वी भाग पर दबाव के कारण चक्रवाती तूफान ‘फैनी’ के आने की आशंका है। भारतीय मौसम विभाग के अनुसार,

जम्मू-श्रीनगर नेशनल हाईवे पर बाइक से आतंकी हमला करने की खुफिया जानकारी के बाद हाईवे पर रेड अलर्ट जारी किया गया है। इसके बाद सुबह नौ बजे से पहले कॉनवॉय के मूवमेंट पर रोक लगा दी गई है।

पूरी दुनिया में 150 से अधिक देशों के दो लाख से अधिक कंप्यूटरों को निशाना बना चुके रैनसमवेयर हमले का सिलसिला सोमवार को भी जारी रहा और सोमवार को भारत, चीन तथा जापान से फिरौती वायरस के हमलों की खबरें आई हैं।