religious news

लखनऊः नवरात्रि के पहले दिन लखनऊ के मंदिरों का नजारा देखने वाला था। पहले दिन भक्तों ने नौ देवियों के पहले स्वरूप शैलपुत्री के दर्शन किए। नवरात्रि के इस पावन पर्व पर पूरे शहर भर के मंदिरों में दिन भर देवी के दर्शन करने वालों की भीड़ लगी रही। मां शैलपुत्री के पूजन के दिन …

लखनऊ: चैत्र  नवरात्रि पर मां की पूजा–उपासना बहुत ही विधि–विधान से की जाती है। इसके पीछे का तात्विक अवधारणाओं का परिज्ञान धार्मिक, सांस्कृतिक और सामाजिक विकास के लिए आवश्यक है। आगे…..

 लखनऊ:  समयाभाव एवं कालगत दोषों को दृष्टिगत रखकर नवरात्रि में स्मरण जप के लिए कुछ सरल मंत्र  हैं। विश्वास एवं निष्ठा के साथ इन्हीं मंत्रों से पूजा-प्रार्थना करने से माता भगवती न केवल प्रसन्न होती है, वरन् उसकी दुर्लभ मनोकामना भी पूरी करती है।| आगे…

लखनऊ: कुछ लोग दुर्गा सप्तशती के पाठ के बाद हवन खुद की मर्जी से कर लेते है और हवन सामग्री भी खुद की मर्जी से लेते है। लेकिन ऐसा नहीं करना चाहिए। ये सब शास्त्रोक्त विधि से उचित नहीं है। हवन के लिए दुर्गा सप्तशती के वैदिकनुसार आहुति की सामग्री इस तरह है। आगे…

लखनऊ: ज्योतिष शास्त्र  में पंचक को अशुभ माना गया है। इसमें  धनिष्ठा, शतभिषा, उत्तरा भाद्रपद, पूर्वा भाद्रपद व रेवती नक्षत्र आते हैं। पंचक के दौरान कुछ विशेष काम नहीं किए जाते हैं। इस बार शनिवार (25 मार्च) की सुबह लगभग 4 बजे से पंचक शुरू होगा, जो 29 मार्च, बुधवार की दोपहर लगभग 01.07 तक …

लखनऊ : ज्योतिष शास्त्रों में अमावस्या और पूर्णिमा तिथि का बहुत महत्व है। 28 मार्च को अमावस्या है। इस तिथि पर किए गए पूजन और उपायों से बहुत ही जल्द शुभ फल मिलते हैं।  जानते हैं अमावस्या पर कौन-कौन से उपाय करें कि जीवन में  कोई दुख तकलीफ ना हो और खुशहाली से जीने की …

कानपुर: वैसे पूरे देश में होली सिर्फ एक ही दिन मनाई जाती है पर कानपुर में होली के बाद गंगामेला के दिन भी जमकर होली खेली जाती है। शहर के  हटिया और पुराने मोहल्ले सहित पूरे शहर में होली की बयार गंगामेला के दिन भी जमकर बहती है।  हटिया बाजार के कई इलाकों में लगातार 7 दिनों तक जमकर होली खेली जाती …

लखनऊ:   मां शीतला, मां दुर्गा का ही एक रूप हैं। शीतला मां की पूजा आराधना करने से चेचक, खसरा आदि रोगों का प्रकोप नहीं फैलता है। माता शीतला, बच्चों की रक्षक हैं तथा रोग दूर करती हैं। पौराणिक काल में चेचक की बीमारी महामारी के रूप में फैलती थी। उस समय ऋषियों ने देवी की …

लखनऊ: होली का त्योहार आ चुका है। सत्ता भी आ चुकी है। अब समय है मन की बुराइयों और द्वेषों को जलाने का। हिंदू पंचांग के अनुसार इस साल होलिका दहन 12 मार्च को शाम 6:30 बजे से 8:35 तक किया जा सकता है। हिंदू धर्म ग्रंथ के अनुसार, होलिका दहन सूर्यास्त के बाद जब …

लखनऊ: रंगों और मस्ती के पर्व होली पर मनचाही कामना पूर्ति के लिए मंत्र भी पढ़े जाते हैं। होली की रात्रि तंत्र-मंत्र सिद्धि के लिए असरकारी मानी गई है। प्रस्तुत है 3 ऐसे विलक्षण मंत्र जो विद्या प्राप्ति साक्षात्कार रोजी-रोजगार, प्रमोशन, व्यापार में घाटा आदि के लिए होली की रात्रि में जपने से मनचाही सफलता देते …