rohit sharma

टीम इंडिया के लिए जहाँ एक तरफ वनडे और टी-20 के लिए ओपनिंग जोड़ी परफेक्ट है, वहीँ दूसरी तरफ टेस्ट टीम में पिछले तीन साल से लगातार एक अच्छी ओपनिंग जोड़ी की तलाश जारी है।

हालांकि, टेस्ट क्रिकेट में उनका बल्लेबाजी औसत तकरीबन 40 का है। अब तक रोहित फेल ही नजर आये हैं लेकिन यह ज़िम्मेदारी उनके लिए मददगार साबित हो सकती है।

4 पारियों में केएल राहुल 44 के उच्चतम स्कोर के साथ 101 रन बना पाए, जबकि मयंक अग्रवाल 55 तक ही पहुंच पाए। केएल राहुल के आकड़ों की बात करें तो उन्होंने पिछले साल सितंबर में 149 रनों की पारी खेली थी।

दूसरे टेस्ट मैच में भारतीय कप्तान विराट कोहली ने रोहित शर्मा, आर.अश्विन और ऋद्धिमान साहा को मौका नहीं दिया। आपको बता दें, भारत और वेस्टइंडीज के बीच दो टेस्ट मैचों की सीरीज का दूसरा मैच वेस्टइंडीज के जमैका में खेला जा रहा है।

भारतीय कप्तान विराट कोहली(Virat Kohli) ने पहले टेस्ट मैच में रोहित शर्मा को प्लेइंग11 में जगह ना देने पर एक बड़ा बयान दिया है।  

ऐसे में भारतीय टीम अपने प्रदर्शन से काफी खुश है। लेकिन टीम के लिए कुछ बातें चिंता भरी हैं। जिसमें रिषभ पन्त का लगातार फेल होना भी शामिल है।

वीरेंद्र सहवाग भारतीय टीम के ऐसे बल्लेबाज रह चुके हैं। जो जब फॉर्म में होते थे तो बड़े- बड़े गेंदबाजों की लाइन-लेंग्थ बिगाड़ देते थे।

टीम इंडिया वस्टइंडीज दौरे पर जाने वाली है इससे पहले कप्तान विराट कोहली ने सोमवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस किया। टीम इंडिया 3 अगस्त से अपने वेस्टइंडीज दौरे की शुरुआत करेगी। इस दौरे की शुरुआत टीम इंडिया तीन टी-20 मैचों की सीरीज से करेगी, जिसके पहले दो मैच अमेरिका के फ्लोरिडा में खेले जाएंगे।

कुछ क्रिकेट विश्लेषकों का तो यहाँ तक मानना है कि मौजूदा कप्तान को तुरंत अपने पद से इस्तीफ़ा दे देना चाहिए. जिससे रोहित शर्मा(Rohit Sharma)ऑस्ट्रेलिया में होने वाले 2020 के टी-20 वर्ल्डकप और भारत की मेजबानी वाले 2023 के वनडे वर्ल्डकप के लिए एक अच्छी टीम बना सकें.

भारतीय कप्तान विराट कोहली और उपकप्तान रोहित शर्मा के बीच अब कुछ सही नहीं है. इस बारे में लोग तरह-तरह की ख़बरें भी दे रहें हैं. ऐसा माना जा रहा है कि वर्ल्डकप में विराट के लिए गए कुछ फैसलों से रोहित शर्मा खुश नहीं थे.