rss

वाराणसी पहुंचे आरएसएस के वरिष्ठ प्रचारक इंद्रेश कुमार शुक्रवार को मीडिया से बात करते हुए कहा कि देश के अंदर किसी भी व्यक्ति को किसी धार्मिक आधार पर ठेस पहुंचाने की कोई इजाजत नहीं है.

बराक ओबामा के प्रशासन में काम कर चुकीं सोनल शाह और अमित जानी को बिडेन ने अपने साथ नहीं रखा है। अमित जानी तो बिडेन के चुनाव अभियान टीम में भी थे। बताया जाता है कि इन दोनों को दूर रखने की वजह उनका आरएसएस-भाजपा से जुड़ाव होना है।

दो दिवसीय इस बैठक में सरसंघचालक डॉ. मोहन भागवत, सरकार्यवाह सुरेश जोशी उपनाम भैयाजी जोशी, राष्ट्रीय कार्यकारिणी के सभी सदस्य, सभी क्षेत्र एवं प्रांत के प्रचारकों समेत विभिन्न आनुषंगिक संगठनों के 700 से अधिक प्रतिनिधि सम्मिलित होंगे।

गुरनाम सिंह के खिलाफ कार्रवाई को लेकर किसान नेता प्रेम कुमार भंगू का कहना है कि इस कदम से भले यह संदेश जाए संगठनों में सब कुछ ठीक नहीं है, लेकिन किसान मोर्चा की नीतियों के खिलाफ जाने की अनुमति किसी भी संगठन को नहीं है।

बॉलीवुड एक्टर अक्षय कुमार ने राम मंदिर निर्माण के लिए योगदान दिया है। साथ ही अक्षय कुमार ने लोगों से भी आगे आकर मंदिर निर्माण के लिए सहयोग करने की अपील की है। बता दें, राम मंदिर के निर्माण के लिए श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के अलावा विश्व हिंदू परिषद और RSS भी देशभर में धन एकत्रित करने का अभियान चला रहे हैं।

गांधीनगर में तीन दिवसीय यह बैठक पांच जनवरी को शुरू हुयी थी जिसमें मोहन भागवत और भैय्याजी जोशी जैसे शीर्ष नेताओं के अलावा भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा और आरएसएस से संबद्ध लगभग 34 संगठनों के प्रमुखों ने भाग लिया।

गांधीनगर: गुजरात के गांधीनगर में पांच जनवरी से राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ और उसके जुड़े विभिन्न संगठनों की राष्ट्रीय बैठक शुरू हो रही है। ये बैठक सात जनवरी तक चलेगी। जिसमें संघ प्रमुख मोहन भागवत और भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा भी मौजूद रहेंगे। ये जानकारी संघ अखिल भारतीय प्रचार प्रमुख अरुण कुमार ने दी। उन्होंने बताया …

नागपुर के स्पंदन अस्पताल में भर्ती RSS के विचारक एमजी वैद्य ने शनिवार को दुनिया अलविदा कह गए। संघ के पहले आधिकारिक प्रवक्ता एमजी वैद्य की अंतिम बिदाई रविवार को होगी। उनका दाह संस्कार नागपुर के अंबाजारी घाट पर किया जाएगा। एमजी वैद्य के निधन के बाद RSS पार्टी में शोक के बादल छाए हुआ है।

आरएसएस के प्रांत प्रचार प्रमुख (दक्षिण बिहार) राजेश कुमार पांडेय ने बताया कि दो दिनों तक चलने वाली इस बैठक में कोरोना में स्वयंसेवकों द्वारा किए गए सेवा कार्यों की चर्चा और समीक्षा की जाएगी।