sabarimala temple

सबरीमाला मंदिर अभी नहीं खोला जाएगा। केरल सरकार ने इस महीने भगवान अयप्पा मंदिर यानी सबरीमाला को खोलने का फैसला टाल दिया है। ये फैसला मंदिर के ट्रस्ट के साथ हुई बैठक में लिया गया।

भारत के प्रसिद्ध मंदिरों में से एक है विश्वा प्रसिद्ध सबरीमाला का मंदिर। यहां हर दिन लाखों लोग दर्शन करने के लिए आते हैं। इसमें सऊदी अरब के मक्का के बाद सबसे ज्यादा शृद्धालु आते हैं।

स्मृति ईरानी ने शुक्रवार को कहा कि धार्मिक परंपराओं का सम्मान किया जाना चाहिए और यदि कोई सिर्फ सुर्खियां बनने के लिए इसका उल्लंघन करता है तो वह देश की विविधता को बड़ा नुकसान पहुंचाता है।

सबरीमाला मंदिर में श्रीलंका की महिला शशिकला के प्रवेश खबर महिला ने ही खारिज कर दिया। उक्त महिला का कहना है, वह मंदिर के भीतर प्रार्थना के लिए गई थी, लेकिन लेकिन प्रवेश द्वार पर ही रोक दिया गया। उन्होंने बताया, मैंने  रजोनिवृत्ति का मेडिकल सर्टिफिकेट भी दिखाया लेकिन मंदिर में प्रवेश नहीं दिया गया।

केरल के सबरीमाला मंदिर का इतिहास टूट गया है। इस तरह से मंदिर के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है।केरल के सबरीमाला मंदिर में बुधवार को भारी विरोध के बीच 50 वर्ष से कम उम्र की दो महिलाओं ने प्रवेश कर इतिहास रच दिया।

केरल के प्रसिद्ध सबरीमाला मंदिर में आज सुबह 50 साल के कम उम्र की कुछ महिलाएं भगवान अयप्पा के दर्शन के लिए बेस कैंप पहुंच गई है। इस खबर के चलते भगवान अय्यप्पा के श्रद्धालुओं ने कोट्टायम रेलवे स्टेशन के बाहर प्रदर्शन करना शुरू कर दिया है।

सबरीमाला मंदिर में लागू निषेधाज्ञा (धारा 144) को आज यानी शनिवार की आधी रात 12 बजे से हटा दिया जाएगा। बता दें कि 19 दिसंबर को पतानमतित्ता मजिस्ट्रेट की अदालत ने सबरीमाला मंदिर में लागू निषेधाज्ञा को 22 दिसंबर तक के लिए बढ़ा दिया था।

तिरुवनंतपुरम:सबरीमला मंदिर में प्रवेश को लेकर गतिरोध जारी है। नीलाक्कल में सबरीमाला जाने की जिद पर अड़े भाजपा महासचिव के सुरेन्द्रन को पुलिस ने हिरासत में ले लिया हालांकि बाद में उन्हें छोड़ दिया गया। केरल में हिन्दू अइक्या वेदी की प्रेसिडेंट केपी शशिकला की शनिवार सुबह हुई गिरफ्तारी के बाद केरल बंद का अाहवान …

तिरुअनंतपुरम : सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद भी सबरीमाला मंदिर में इस बार महिलाएं प्रवेश कर पाएंगी या नहीं? मंदिर के द्वार खुलने में कुछ घंटे ही शेष हैं और इस सवाल पर राज्य में तनाव बना हुआ है। मंदिर में हर उम्र की महिलाओं के प्रवेश के लिए एक सर्वदलीय बैठक बुलाई गई जो …

तिरुअनंतपुरम : केरल इस समय देश और दुनिया में चर्चा का विषय बना हुआ है। देश का सबसे बड़ा सवाल इस समय ये है कि क्या सुप्रीम कोर्ट के स्पष्ट आदेश के बाद भी सबरीमाला मंदिर में इस बार महिलाएं प्रवेश कर पाएंगी या नहीं? ये सवाल इसलिए भी मौजू है, क्योंकि मंदिर के द्वार …