Saudi Arabia

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक इसमें 31 लोगों के मारे जाने की खबर है। इसके साथ ही क्षेत्र में सऊदी अरब और हूती विद्रोहियों के बीच पहले से मौजूद तनाव और बढ़ गया है।

जम्मू कश्मीर पर पाकिस्तान का दुनिया भर में प्रोपेगेंडा फेल हो चुका है। अब पाकिस्तान को सऊदी अरब ने तगड़ा झटका दिया है। पाकिस्तान ऑर्गेनाइजेशन ऑफ इस्लामिक कोऑपरेशन (ओआईसी) की बैठक में जम्मू कश्मीर के मामले को उठाना चाहता था।

चीन पूरी दुनिया में शांति की बात करता है, लेकिन उसकी सच्चाई कुछ और ही है। चीन में उईगर मुस्लमानों के लगातार अत्याचार हो रहा है। उईगर मुस्लिमों को हिरासत शिविर में डालकर उन पर अत्याचार किए जा रहे हैं।

देश में पेट्रोल और डीजल के दाम आसमान छू रहे हैं। महंगाई के इस दौर में कई लोगों ने अपने निजी वाहनों से सफर करना भी बंद कर दिया है। लेकिन आज हम आपको दुनिया में एक ऐसी जगह के बारे में बताने जा रहे हैं, जहां आपको एक लीटर डीजल दो रुपये से भी कम में मिल जाएगा।

स्लामिक सहयोग संगठन (ओआईसी) की अगली बैठक में सदस्य देशों के सांसद हिस्सा ले सकते हैं न कि विदेश मंत्री। पाकिस्तानी मीडिया में ऐसी रिपोर्ट आई थी कि विदेश मंत्रियों के स्तर पर हीओआईसी की बैठक होगी लेकिन मिली जानकारी के अनुसार इसमें सदस्य देशों के सांसद ही हिस्सा लेंगे।

वैसे से केंद्र में मोदी सरकार आने के बाद से भारत और सऊदी अरब के बीच दोस्ती गहरी हुई है। दोनों देशों में रिश्ते मजबूत हुए हैं लेकिन अब सउदी अरब का एक कदम दोनों देशों के बीच खटास ला सकता है। दरअसल, सबसे बड़े खाड़ी देश सऊदी अरब ने इस्लामिक देशों के विदेश मंत्रियों के 'आर्गनाइजेशन ऑफ़ इस्लामिक कोऑपरेशन' (ओआईसी) की बैठक का आयोजन किया है। इस बैठक का मुख्य मुद्दा कश्मीर है।

सऊदी अरब कश्मीर मुद्दे पर मुस्लिम देशों के सबसे बड़े संगठन इस्लामिक सहयोग संगठन (OIC) के सदस्यों की बैठक बुलाने की योजना बना रहा है। सूत्र बता रहे हैं कि मुस्लिम देशों को लेकर पाकिस्तान भारत पर बड़े हमले की साजिश रच रहा है।

सऊदी अरब के पत्रकार जमाल खशोगी की हत्या के मामले में 8 लोगों को दोषी करार दिया है। इस मामले में 5 लोगों को सजा- ए- मौत दी गई है।  तीन अन्य लोगों को कुल 24 साल जेल की सजा दी गई है।  जमाल सऊदी अरब के रहने वाले थे और वाशिंगटन पोस्ट के पत्रकार थे।

ट्विटर 6,000 से अधिक अकाउंट्स को बंद कर दिए हैं। जिन अकाउंट्स को बंद किया गया है वे सभी सऊदी अरब के हैं। इन अकाउंट्स को बंद करने को लेकर ट्विटर का कहना है कि ये सभी यूजर्स उसकी पॉलिसी का उल्लंघन कर रहे थे

मलेशिया की मेजबानी में इस हफ्ते कुआलाम्पुर शिखर सम्मेलन होने जा रहा है। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान इस सम्मेलन में शामिल हो या न हो इस पर फैसला लेने वाले हैं। इस बीच सऊदी अरब पाकिस्तान को चेतावनी दी है और कहा कि वह हमे या मलेशिया में से किसी एक को चुन ले।