sbi

3 से 5 साल तक की एफडी पर नई ब्याज दरें- SBI ने आम लोगों के लिए ब्याज दरें 5.7 फीसदी से घटाकर 5.3 फीसदी कर दी हैं। वहीं, सीनियर सिटीजन के लिए ब्याज दरें 6.2 फीसदी से गिरकर 5.8 फीसदी रह गई हैं।

इस महामारी से बचाव के लिए देश के बैंक भी लगातार उपाय कर रहे हैं। अब देश के सबसे बड़े बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया(एसबीआई) ने ब्रांच खोलने के समय में बदलाव किया है।

अपने ग्राहकों को राहत के लिए बैंकों ने लोन की किस्तों को 3 महीने आगे बढ़ाने का फैसला किया था। गौरतलब है कि देश में बढ़ते कोरोना वायरस संक्रमण के मामले को देखते हुए पहली बार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 24 मार्च को लॉकडाउन का ऐलान किया था।

देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) ने ग्राहकों को तगड़ा झटका दिया है। बैंक ने फिक्स्ड डिपॉजिट यानि FD के इंटरेस्ट रेट में कटौती की है।

भारतीय स्टेट बैंक ने लॉकडाउन के चलते ग्राहकों को गिफ्ट देते हुए ब्याज दरें घटाने की घोषणा की है। इस बैंक ने ब्याज दरों में 0.15 प्रतिशत की कटौती की है

वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए लॉकडाउन के चलते ऑनलाइन फ्रॉड का साइबर क्राइम बहुत तेजी से बढ़ रहा है। ऐसे में लगातार बैंक अपने ग्राहकों को लगातार सतर्क कर रहे है जिससे वे किसी भी धोखा-धड़ी का शिकार न हो।

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) ने अपने ग्राहकों को फेक इनकम टैक्स रिफंड मैसेज को लेकर सचेत किया है। बैंक ने अपने अकाउंट होल्डर्स को धोखाधड़ी के संदेशों को लेकर चेतावनी दी है।

गाजियाबाद के विजयनगर थाना क्षेत्र में स्थित स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया की एक शाखा में भी इसी तरह खौफ का मंजर पसर गया। दरअसल मंगलवार को बैंक की इस शाखा में...

महामारी से जंग जीतने के लिए देशभर में लॉकडाउन का सीधा असर सबसे ज्यादा मजदूरों, किसानों और कृषि से जुड़े लोगों पर पड़ा है। इन हालातों में अगर किसानों को पैसों की जरूरत पड़ जाए तो बिल्कुल भी घबराने की जरूरत नहीं है।

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने 30 जून तक मुफ्त में ट्रांजैक्शन की संख्या से अधिक होने पर लगने वाले एटीएम सेवा शुल्क को माफ करने का निर्णय लिया है।