sc

केंद्र सरकार ने प्रस्ताव में मंदिर के लिए 200 वर्ग गज की मांग की थी, जिसे सुप्रीम कोर्ट ने बढ़ाकर 400 वर्ग गज कर दिया है, सुप्रीम कोर्ट ने मंदिर तोड़े जाने के बाद विरोध और हंगामा करने के आरोप में गिरफ्तार लोगों को निजी मुचलके और बांड पर रिहा करने का आदेश भी दे दिया है।

राम जन्मभूमि विवाद पर मामले में हिंदू पक्ष और मुस्लिम पक्ष ने सुप्रीम कोर्ट में मोल्डिंग ऑफ रिलीफ पर अपना जवाब दाखिल कर दिया है। हिंदू पक्ष ने कहा है कि अयोध्या में विवादित जमीन पर राम मंदिर का निर्माण हो।

राम जन्भूमि विवाद पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई पूरी हो चुकी है। इस बीच अयोध्या मामले में नया मोड़ गया है। मध्यस्थता पैनल ने देश की सर्वोच्च अदालत को सूचित किया है कि 2.77 एकड़ की जमीन के बंटवारे के इस विवाद में वह समझौते तक पहुंच चुका है।

अयोध्या विवाद पर बुधवार को सुप्रीम कोर्ट में जारी निर्णायक सुनवाई सम्पन्न हो गयी। चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने सुनवाई के बाद आदेश सुरक्षित रख लिया है।

इसके बाद चीफ जस्टिस रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली 5 सदस्यीय संवैधानिक बेंच ने अपना फैसला सुरक्षित रख लिया है। चीफ जस्टिस अगले महीने 18 नवंबर को रिटायर होने वाले हैं। ऐसे में कहा जा रहा है कि उससे पहले इस ऐतिहासिक मामले पर फैसला आ सकता है।

सुप्रीम कोर्ट में राम मंदिर विवाद पर बुधवार को सुनवाई खत्म हो गई है। पहले हिंदू और फिर मुस्लिम पक्ष ने देश की सबसे बड़ी अदालत में अपनी-अपनी आखिरी दलीलें रखीं। आखिर में मुस्लिम पक्ष ने दलीलें रखीं। इसके बाद चीफ जस्टिस रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली 5 सदस्यीय संवैधानिक बेंच ने अपना फैसला सुरक्षित रख लिया है।

सुप्रीम कोर्ट में राम मंदिर विवाद पर आखिरी दिन की सुनवाई हो रही है है। बधवार सुनवाई की शुरुआत से ही देश की सर्वोच्च अदालत में तीखी बहस हो रही है। कोर्ट में जब हिंदू महासभा ने दलील रखनी शुरू की तो बहस छिड़ गई।

सुप्रीम कोर्ट में राम मंदिर विवाद पर सुनवाई शुरू हो गई है। हिंदू और मुस्लिम पक्ष ने अपनी ओर से लिखित बयान अदालत में पेश किए हैं। सुप्रीम कोर्ट ने इस दौरान किसी भी टोका-टाकी पर रोक लगाया है।

सुप्रीम कोर्ट में राम मंदिर विवाद पर आज यानी बुधवार को सुनवाई पूरी हो सकती है। देश की सर्वोच्च अदालत में हिंदू और मुस्लिम पक्ष अपनी-अपनी आखिरी दलील रखेंगे। अगर आज सुनवाई पूरी हो जाती है, तो यह सुप्रीम कोर्ट द्वारा तय की गई समयसीमा से एक दिन पहले पूरी होगी।

सुप्रीम कोर्ट में राम मंदिर विवाद पर आज यानी बुधवार को सुनवाई पूरी हो सकती है। देश की सर्वोच्च अदालत में हिंदू और मुस्लिम पक्ष अपनी-अपनी आखिरी दलील रखेंगे। अगर आज सुनवाई पूरी हो जाती है, तो यह सुप्रीम कोर्ट द्वारा तय की गई समयसीमा से एक दिन पहले पूरी होगी।