Shaheen Bagh

नागरिकता संशोधन एक्ट के खिलाफ दिल्ली के शाहीन बाग में प्रदर्शन का चेहरा बनीं बिल्किस दादी का भी नाम मैग्जीन TIME की इस लिस्ट में शामिल है। बता दें कि नागरिकता संशोधन एक्ट के खिलाफ दिल्ली के शाहीन बाग में प्रदर्शन हुआ था।

दिल्ली दंगों (Delhi Riots) को लेकर आज पुलिस ने बहुत बड़ा खुलासा किया है। जेएनयू के पूर्व छात्र उमर खालिद (Umar Khalid) ने पुलिस को बताया है कि उसने दिल्ली दंगों की साजिश रचने में बहुत बड़ी भूमिका निभाई थी। उसने बहुत ही सुनियोजित ढंग से दंगों की साजिश रची थी। ये तमाम बातें गिरफ्तार किये गये उमर खालिद ने दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल को पूछताछ में बताया है।

शहजाद अली ने भाजपा में एंट्री ली है।  दिल्‍ली प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता की मौजूदगी में भाजपा का शामिल हुए है। शहजाद अली शाहीन बाग सामाजिक कार्यकर्ता  है। शहजाद की एंट्र के इस मौके पर भाजपा नेता श्याम जाजू भी मौजूद थे।

अनलॉक-1 के शुरू होते ही सीएए (नागरिकता संशोधन कानून) और एनआरसी (राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर) के विरोध में फिर से धरना-प्रदर्शन शुरू होने की संभावनाएं जताई जा रही हैं।

देश और विदेश की मीडिया में इस साल सबसे ज्यादा चर्चा का विषय रहे शाहीन बाग इलाके की दुकानों के ताले पांच महीने बाद खुल गए हैं। पहले नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) और उसके बाद कोरोना संकट के कारण पांच महीने से इलाके की दुकानें बंद चल रही थीं।

दिल्ली के शाहीन बाग इलाके में रविवार रात फर्नीचर बाजार में आग लग गई जिसके बाद अफरा-तफरी मच गई। सूचना मिलने के बाद दमकल विभाग की चार गाड़ियां मौके पर पहुंची हैं।

कपिल मिश्रा ने ट्वीट कर कहा, जो काम हजारों मिलिट्री, पुलिस लगाकर नहीं हो सकता वो मोदी जी की एक अपील पर हो रहा है। जनता कर्फ्यू में भारत आज पूरी तरह से बंद है।

जनता कर्फ्यू के बीच राजधानी दिल्ली के शाहीन बाग इलाके से बड़ी खबर सामने आई है। शाहीन बाग में प्रदर्शन स्थल के पास पेट्रोल बम से हमला होने की खबर है।

राजधानी दिल्ली के शाहीन बाग में पिछले 3 महीने से लगातार प्रदर्शन चल रहा है। यहां संशोधित नागरिकता कानून के खिलाफ मुस्लिम महिलाएं प्रदर्शन कर रही हैं। इन प्रदर्शनों के कारण दिल्ली से नोएडा को जोड़ने वाली सड़क बंद है, जिससे दिल्ली के लोगों की काफी समस्या बढ़ी है।

भारत में कोरोना से संक्रमित मरीजों का आंकड़ा 126 तक पहुंच गया है, जबकि अब तक देश में इससे 3 लोगों की मौत भी हो चुकी है। वहीं कोरोना के बढ़ते खतरे को देखते हुए दिल्ली सरकार ने लोगों को एडवाइजरी जारी की है।