sit

जिलों में हिंसक प्रदर्शनों की विशेष जांच समिति एसआईटी करेगी। यूपी के डीजीपी ओपी सिंह ने इस संबंध में निर्देश जारी कर दिए हैं। डीजीपी ने कहा है कि हर जिले में एसआईटी गठित की जाएगी।

तेलंगाना सरकार ने हैदराबाद एनकाउंटर की जांच के लिए एसआईटी गठित करने का आदेश दिया है। अब एसआईटी करेंगी इस मामले की जांच।गैंगरेप पीड़िता दिशा के चार आरोपियों को पुलिस ने एनकाउंटर में मार गिराया था। इसके बाद से ही एनकाउंटर पर सवाल उठने लगे थे।

1984 सिख दंगा मामले में हत्या और डकैती की बंद 26 फाइलों को खोलना एसआईटी (स्पेशल इनवेस्टिगेशन टीम) के लिए चुनौती साबित हो रही है। इन केस में मृतकों की पोस्टमार्टम रिपोर्ट नहीं मिली हैं।

महाराष्ट्र में गठबंधन एनडीए से अलग होने के बाद शिवसेना के सांसद,संसद में भी विपक्ष में बैठेगे। शिवसेना 11 नवंबर को एनडीए से अलग हो गई। शिवसेना के एनडीए से दूर होने के बाद राज्यसभा में बैठक की व्यवस्था बदल गई है। अब पार्टी के सांसद विपक्ष की तरफ बैठेंगे।

चिन्मयानंद केस में स्पेशल इंवेस्टिगेशन टीम (एसआईटी) ने अपनी चार्जशीट दाखिल कर दी है। पूर्व गृहमंत्री चिन्मयानंद पर लगे यौन उत्पीड़न आरोप और उनसे फिरौती मांगने के दोनों मामले में चार्जशीट दाखिल की गई है।

पार्किंग विवाद को लेकर दिल्ली की तीस हजारी कोर्ट में पुलिस और वकीलों के बीच हुए हिंसक झड़प की जांच अब एसआईटी को सौंप दी गई है।

दरअसल, 23 सितंबर को एसआईटी जांच के लिए डीजीपी डी. श्रीनिवास वर्मा की अगुवाई में टीम गठित की गई थी, वह इंदौर के लिए रवाना हो पाते कि उससे पहले 24 सितंबर को दूसरी एसआईटी बनाई गई, दूसरी एसआईटी में प्रमुख संजीव शमी को बनाया गया, बताया जा रहा है कि शमी ने तेजी से

उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर मामले में पूर्व केंद्रीय मंत्री स्वामी चिन्मयानंद पर आरोप लगाने वाली लड़की को एसआईटी ने गिरफ्तार किया है। लड़की पर चिन्मयानंद से केस के बदले पैसों की मांगने का आरोप है। गिरफ्तारी करने के बाद लड़की को मेडिकल जांच के लिए ले जाया गया है।

भारतीय जनता पार्टी(बीजेपी) के वरिष्ठ नेता स्वामी चिन्मयानंद पर दुष्कर्म और ब्लैकमेलिंग का आरोप लगाने वाली लॉ की छात्रा को भी जल्द गिरफ्तार किया जा सकता है।