sitapur

विश्व शौचालय दिवस के अवसर पर “कोरोना जागरूकता वाहन-स्वच्छता रथ” को  पंचायतीराज निदेशालय से हरी झंडी दिखा कर लखनऊ और अवध के जिले  बहराइच, सीतापुर, बाराबंकी के लिए रवाना किया गया ।

एसपी आरपी सिंह दीपावली की पूर्व संध्या पर खैराबाद स्थित कुष्ठ आश्रम में रहने वाले रोगियों के परिवार से मिलने पर पहुंचे थे। इस दौरान एसपी ने परिवारों के साथ दिवाली की खुशियां बांटी और बच्चों को मिठाई दी।

डीएम विशाल भारद्वाज ने 30 अक्टूबर को कई क्रय केन्दों पर धान खरीद की पड़ताल की थी। कई किसानों से सैकड़ों कुंतल धान खरीदा जाना पाया गया।

उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने गाँवो को आत्म निर्भर बनाने के लिए क्रांतिकारी व कल्याणकारी योजनाएं लागू की है कार्यकर्ताओ घर घर जाकर योजनाओं की जानकारी लोगो को दे।

अधिकारी व जन सामान्य के लोग प्राथमिकता को समझें और उसका लाभ ले विधायक ने कहा मोदी व योगी ने अपनी सरकार की शुरुआत से ही जनता की सेवा को सर्वोच्च प्राथमिकता मानकर काम कर रहे हैं ।

धरने पर पहुंचे विद्युत विभाग के अधिशासी अभियंता ए के श्रीवास्तव ने ट्रांसफार्मर न उपलब्ध होने की बात स्वीकार की अधिशासी अभियंता ने बताया कि उपलब्धता के आधार पर ट्रांसफार्मर मुहैया कराया जायगा।

तत्काल डीएम अखिलेश तिवारी भी उनसे खुश नहीं थे, कार्रवाई के लिये कई बार शासन को पत्र भेजा, कुछ नहीं हुआ। जिले की नोडल अधिकारी और जिले की प्रभारी मंत्री स्वाति सिंह ने भी कई बार नारजगी जाहिर की। सीएमओ तो नहीं हटे, डीएम का तबादला जरूर हो गया।

साकेत मिश्र जिले में करीब 20 साल से सक्रिय राजनीति कर रहे हैं। शुरूआत बसपा से की थी लेकिन विगत एक दशक से भी ज्यादा समय से भाजपा में हैं। सीतापुर विधानसभा क्षेत्र से भाजपा के टिकट पर भी चुनाव लड़ चुके हैं।

राजधानी लखनऊ के दीनदयाल नगर (खदरा) एरिया में रहने वाले डॉ अनुराग मिश्र ने लखनऊ विश्वविद्यालय से स्नातक करने के बाद हिमांचल विश्वविद्यालय से पोस्ट ग्रेजुएशन किया।

सीतापुर के आढती और किसान क्या सोंचते हैं, इसे लेकर बातचीत की गई, तो यह बात सामने आई कि हाल फिलहाल किसान इस उम्मीद में हैं