Spain

देश में लगातार तीसरे दिन भी नौ हजार से ज्यादा कोरोना मरीज मिलने का असर दिखने लगा है। मरीजों की संख्या में तेजी से हो रही बढ़ोतरी के कारण भारत ने इटली के बाद स्पेन को भी पीछे छोड़ दिया है।

वैसे तो पूरी दुनिया में इस कोरोना ने अपना संक्रमण फैला रखा है। ऐसे में स्‍पेन में कोरोना वायरस से मरने वालों का आंकड़ा 10,000 पार कर गया है। स्‍पेन में बीते 24 घंटे में रिकॉर्ड 950 लोगों की मौत हो गई।

इटली के बाद कोरोना वायरस ने अगर किसी देश में सबसे ज्यादा तबाही मचाई है तो वो स्पेन है। यूरोप के इस देश में अब तक 4858 लोगों की मौत हो चुकी है और ये आंकड़ा लगातार बढ़ता जा रहा है। पिछले 24 घंटे में ही कोरोना वायरस से स्पेन में 769 लोगों की जान जा चुकी है।

कोरोना ने विश्व में बवंडर मचा के रखा है। दुनिया का हर इंसान आज कोरोना वायरस को लेकर चिंतित है। वहीं देश की सरकार अपनी प्रजा के लिए हर अथक प्रयास कर रही है। विश्व में कुल 4,68,523 लोग कोरोना से संक्रमित हैं जबकि 21,192 लोगों की मौत हो चुकी है।

कोरोना का कहर दिनोंदिन बढ़ता ही जा रहा है। इससे बड़े से बड़े शक्तिशाली देशों में इस समय संसाधनों की कमी होती जा रही है। इस समय स्पेन और इटली की हालत इतनी खस्ता है, जिसे सुनकर मानवता के रोंगटे खड़े हो जाएंगे...

देश में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों का आंकड़ा लगातार बढ़ता जा रहा है। इस बीच डॉक्टर नरिंदर मेहरा का दावा है कि भारत के लोगों की इम्युनिटी काफी बेहतर है। जिसके कारण भारत में दूसरे देशों की तरह डेथ टोल नहीं बढ़ेगा। आईसीएमआर के पूर्व नेशनल चेयरमैन और एम्स इम्यूनोलॉजी के पूर्व डीन डॉक्टर नरिंदर मेहरा ने बताया

2 जनवरी 1492 को स्पेन के सबसे ताकतवर मुस्लिम साम्राज्य ग्रेनाडा शासन समाप्त हो गया। 500 से ज्यादा मस्जिदों को तोड़ चर्च बना दिया गया। यह वह मस्जिदें थीं जिन्हें चर्च तोड़कर बनाया गया था। इसके साथ ही देश के सभी मुसलमानों का धर्म बदलकर उन्हें ईसाई बना दिया गया।

मेडिकल साइंस यह कहता है कि डेंगू की बीमारी सिर्फ मच्छर के काटने से फैलता है। लेकिन एक देश में ऐसा मामला सामने आया है, जिन्हें लोगों ने मानने से इंकार कर दिया। पूरा मामला यूरोपियन देश स्पेन का है, जहां डेंगू से जुड़े पुराने सभी दावे झूठे नजर आ रहे हैं।