spicejet

कोरोना वायरस से निपटने के लिए देश में लॉकडाउन लागू है। अब इस बीच स्पाइटजेट के कर्मचारियों के लिए अच्छी खबर है। स्पाइसजेट अपने कर्मचारियों की छटनी नहीं करेगी।

स्पाइसजेट एयरलाइन के पायलट और एक क्रू मेंबर को नौकरी से हाथ धोना पड़ा है, बता दें कि पिछले महीने दिल्ली-कोलकाता उड़ान के दौरान एक यात्री ने शिकायत दर्ज कराई थी कि उसने फ्लाइट में एयरलाइन क्रू मेंबर और एक व्यक्ति को रोमांस करते हुए देखा था।

सोमवार से कश्मीर घाटी में स्कूल-कॉलेज और सरकारी ऑफिस खोलने के लिए राज्य सरकार ने घोषणा कर दी है। लेकिन एयरलाइन कंपनियों ने किन कारणों के चलते यह फैसला लिया है, इसकी जानकारी नहीं मिल पाई है।

अधिकारियों ने बताया कि देश का दूसरा सबसे व्यस्त हवाई अड्डा अपने ‘सेकेंडरी रनवे’ से काम चला रहा था जहां से एक घंटे में केवल 35 विमानों का परिचालन संभव है। जबकि मुख्य रनवे से प्रतिघंटा 48 विमानों का परिचालन हो सकता है।

घटना की जानकारी रखने वाले सूत्रों ने बताया कि घटना सोमवार रात करीब पौने बारह बजे हुई, जब जयपुर से मुंबई आ रहा ‘स्पाइसजेट’ का विमान एसजी6237 मुख्य रनवे से फिसलते हुए उससे नीचे उतर गया था।

एक विमान ने मुंबई से उड़ान भरी थी जबकि दूसरा बेंगलुरु से आ रहा था। एक विमान को वापस मुंबई में उतारा गया, वहीं दूसरे विमान का मार्ग बदलकर उसे नागपुर में उतारा गया।

स्पाइसजेट का एक विमान शिरडी हवाई अड्डे पर उतरते समय सोमवार को रनवे से फिसल गया जिससे वहां परिचालन स्थगित हो गया। सूत्रों ने बताया कि सभी यात्री सुरक्षित हैं। यात्रियों की संख्या के बारे में अभी तक जानकारी नहीं मिल सकी है।

एयरलाइन स्पाइसजेट ने कहा है कि उसने पहले ही जेट एयरवेज के 100 पायलट सहित 500 से अधिक कर्मचारियों को नौकरी पर रख लिया है। कंपनी ने कहा है कि वह आगे और भी कर्मचारियों को शामिल करने के लिए तैयार है।

हवाई सेवा प्रदाता स्पाइसजेट अपने बेड़े में 16 बोइंग 737-800 एनजी विमानों को शामिल करेगी। उसने उड़ानें रद्द होने की समस्या को कम करने और अंतरराष्ट्रीय एवं घरेलू स्तर पर अपनी मौजूदगी को बढ़ाने के लिए यह कदम उठाया है।

दिल्ली से पटना जा रहा स्पाइसजेट एयरलाइंस का विमान पटना में मौसम खराब होने के चलते डायवर्ट करके वाराणसी हवाईअड्डे पर भेज दिया गया। विमान रात में वाराणसी पहुंचने के बाद हवाईअड्डे पर यात्रियों ने हंगामा किया। सूत्रों की मानें तो विमान