started

अगले साल से बीएचयू में ‘भूत विद्या’ की पढ़ाई शुरु होगी।  अगले साल इसे पाठ्यक्रम में शामिल किया जा सकेगा। अब जिनको इंटरेस्ट होगा वो बीएचयू में 'भूत विद्या' या 'साइंस ऑफ पैरानॉर्मल' की पढाई कर सकते हैं, बीएचयू में इस विषय पर छह महीने का सर्टिफिकेट कोर्स शरू हो रहा है।

व्हाट्सअप ने एंड्रॉयड ऐप के लिए महत्वपूर्ण कॉल-वेटिंग फीचर रोल-आउट करना शुरू कर दिया है। इस फीचर के मदद से व्हाट्सअप कॉलिंग करते समय अन्य वॉट्सऐप कॉल आने पर यूजर को अलर्ट मिलेगा। साथ ही कॉल करने वाले यूजर को बिजी होने का मैसेज भी मिलेगा। इसमें यूजर को दो तरह की सुविधा मिलती है।

आज टीवी का सफर भले ही 95 साल पुराना हो, लेकिन यह अपने सबसे मॉडर्न में है। टीवी, एलसीडी या एलईडी। आज वर्ल्ड टेलीविजन डे है।  9 दशक पहले कभी भारी-भरकम डिब्बे के रूप में दिखने वाला इडियट बॉक्स बोलने से ही चलने लगता है। 1924 में बक्से, कार्ड और पंखे के मोटर से तैयार हुई टीवी से लेकर स्मार्ट टीवी दलाव का सफर तय किया है।

फिर मां दुर्गा के आगमन की तैयारी शुरू हो जाएगी। इस बार 29 सितंबर, रविवार से शारदीय नवरात्र शुरु हो रहा हैं। धर्म के अनुसार इस दिन माता कैलाश पर्वत से धरती पर अपने मायके आती हैं। खास बात यह है

15 सितंबर से श्राद्ध पक्ष शुरू हो गया। अब हमारे पितृ घर में विराजमान होंगे। अपने वंश का कल्याण करेंगे। घर में सुख-शांति-समृद्धि प्रदान करेंगे। श्राद्ध कर्म करने की विधि होती है ताकि इसमें कोई भूल न हो।15 दिन के लिए हमारे पितृ घर में होंगे

ज्यादातर बस, बस स्टैंड, रेलवे या रेलवे स्टेशन पर आप पानी की बोतले फेंकी हुई देखते होंगे। आए दिन हजारों की संख्या में लोग रोज पानी की इन बोतलों का इस्तेमाल कर फेंक देते हैं। इसे प्रदुषण फैल रहा है। पर्यावरण को बचाने के लिए रेलवे ने पहल की है। रेलवे स्टेशनों पर फेंकी जाने वाली पानी की खाली बोतलों से अब टीशर्ट और कैप बनाई बनाए जाने की तैयारी है।

रमजान के पाक महीने में जन्नत के दरवाजे खोल दिए जाते हैं। इस माह में किए गए अच्छे कर्मों का फल कई गुना ज्यादा बढ़ जाता है।खुदा अपने बंदों के अच्छे कामों पर नजर रखता है, उनसे खुश होता है।

जयपुर:आज से श्राद्ध पक्ष शुरू हो गया। अब हमारे पितृ घर में विराजमान होंगे। अपने वंश का कल्याण करेंगे। घर में सुख-शांति-समृद्धि प्रदान करेंगे। श्राद्ध कर्म करने की विधि होती है ताकि इसमें कोई भूल न हो।  विधि पौराणिक ग्रंथों के अनुसार श्राद्ध करने की भी विधि होती है। यदि पूरे विधि विधान से श्राद्ध कर्म …

जयपुर: लगातार घट रही हरियाली को बढ़ाने के साथ आप पित्रदोष से भी निजात पा सकते हैं। पितरपक्ष के समाप्त होने में अभी है  कुछ दिन शेष। पित्रपक्ष में पीपल व गूलर के पौधों को रोपकर सकते हैं। और पितृदोष से मुक्ति पा सकते है। पितृ दोष के कारण, जिनके वंश आगे नहीं बढ़ रहा …

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की मजबूरी है कि सत्ता और सत्ता का खेल जरूरी है। सत्ता के खेल का रंग-रूप बदलता है, पर चरित्र वही रहता है। उत्तर प्रदेश में चुनाव में हर पार्टी विकास की बात करती है और सत्ता में आते ही रंग बदल कर पुराना खेल शुरू कर देती है। कोई स्मारक बनवाता है …