Tablighi Jamat

मरकज में शामिल हुए 34 विदेशी जमातियों को ब्लैकलिस्ट करने के आदेश के खिलाफ याचिका पर आज यानी शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई की। कोर्ट ने इस मामले में केंद्र सरकार और राज्य सरकारों से जवाब मांगा है।

देश में कोरोना का संक्रमण फैलाने के मामले में नाम आने के बाद तबलीगी जमात का दिल्ली हिंसा से भी कनेक्शन सामने आया है। दिल्ली पुलिस की ओर से इस मामले में दाखिल की गई चार्जशीट में तबलीगी जमात को लेकर महत्वपूर्ण खुलासा किया गया है।

तब्लीगी जमात शहरवासियों के लिए खतरनाक बन गई है। उनकी हरकतों की वजह से राजधानी का सकून छिन गया है। शनिवार को अब तक एक दिन में सर्वाधिक 55 मरीज कोरोना पॉजिटिव मिले हैं।

कोरोना को लेकर जिले के लिए अच्छी खबर नहीं है। जिले में कुछ दिनों पहले जमात से लौटे एक व्यक्ति की रिपोर्ट गुरुवार को पॉजिटिव आई...

निजामुद्दीन स्थित तबलीगी जमात के मुखिया मौलाना साद कंधालवी की मुश्किलें बढ़ गई हैं। उनके खिलाफ जांच एजेंसियों ने शिकंजा कस दिया है।

कोरोना वायरस का संक्रमण तबलीगी जमात के मुखिया मौलाना साद के सहारनपुर स्थित ससुराल तक पहुंच गया है। मौलाना साद की बीवी के दो भाइयों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। मौलाना साद के ये दोनों साले हाल ही में फ्रांस से लौटे थे।

उत्तर प्रदेश के बागपत जिले के बड़ौत कोतवाली क्षेत्र में रुके हुए दो बिहार के जमातियों में कोरोना पॉजिटिव की पुष्टि होने के बाद हड़कंप मच गया है। दोनों जमातियों को कल ही क्वारंटाइन कर दिया है।

देशभर में कोरोना वायरस के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। अभी तक कोरोना संक्रमितों के जो मामले सामने आए हैं उनमें तब्लीगी जमात के लोगों की संख्या 30 प्रतिशत से ज्यादा है। कई जमाती जांच से बच रहे हैं और छिपे हुए हैं।

शभर में कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। वहीं अब अलीगढ़ में जमात से आए कुछ लोगों में से एक की रिपोर्ट पॉजिटिव आने से स्वास्थ्य महकमे और जिला प्रशासन...

उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस पर हुई प्रेस कांफ्रेंस में राज्य के स्वास्थ्य सचिव अमित मोहन प्रसाद ने जानकारी दी कि कोरोना वायरस के मामले राज्य में बढ़कर 410 तक पहुंच गए हैं, जिसमें से 221 मरीज तबलीगी जमात से जुड़े हैं।