taliban

तालिबान के लिए अपनी खिड़की खुली रखना भारत के लिए जरुरी है। अमेरिकी वापसी के बाद काबुल में जिसकी भी सत्ता कायम होगी, उसके साथ भारत के संबंध अच्छे होने चाहिए। यह कितने दुख और आश्चर्य की बात है कि अफगानिस्तान भारत का पड़ोसी है और उसके भविष्य के निर्णय करने का काम अमेरिका कर रहा है ? भारत की कोई राजनीतिक भूमिका ही नहीं है।

तालिबान ने पाकिस्तान को बड़ा झटका देते हुए कश्मीर को भारत का आंतरिक मुद्दा बताया है। तालिबान के इस बयान ने ना केवल भारत बल्कि पूरी दनिया को अचंभित कर दिया है।

अफगानिस्‍तान में सक्र‍िय आतंकवादी गुट ताल‍िबान ने कश्मीर को भारत का आंतरिक मामला बता कर पाकिस्तान की बोलती बंद कर दी। तालिबान की ओर से एक बयान जारी कर कहा गया कि वह क‍िसी दूसरे देश के आंतरिक मामलों में कोई हस्‍तक्षेप नहीं करेगा।

अफगान आर्मी बेस पर घातक हमला हुआ है। इस हमले की जिम्मेदारी तालिबान ने ली है। बीते मंगलवार को अफगानिस्तान राजधानी स्थित एक प्रसूति अस्पताल पर 3 संदिग्ध बंदूकधारियों ने ताबड़-तोड़ गोलियां चलाईं और ग्रेनेड फेंके।

तालिबान और अफगानिस्‍तान सरकार के बीच होने वाली संभावित शांति वार्ता पर अब पेंच फंस गया है। ये पेंच तालिबान लड़ाकों की रिहाई को लेकर फंसा है।

उधर तालिबान ने हाल ही में कहा है कि वे अब भी अफगानिस्तान के 'वैध शासक' हैं और यह उनका कर्तव्य है कि वे साल 2001 में अमेरिकी फौज द्वारा बेदखल किए जाने से पहले की 'इस्लामी सरकार' को फिर से बहाल करें। तालिबान ने कहा था कि अमेरिका से दोहा में हुए शांति समझौते से इस स्थिति पर कोई फर्क नहीं पड़ा है।

तालिबान द्वारा रात में किए गए हमलों में अफगान सेना और पुलिस के कम से कम 20 कर्मियों की मौत हो गई है। सरकारी अधिकारियों ने बुधवार को यह जानकारी दी। इससे कुछ घंटे पहले अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा था कि उनकी बागियों के राजनीतिक प्रमुख से ‘बहुत अच्छी’ बातचीत हुई है।

एक ओर जहाँ पूरा भारत ट्रंप की अगुआई में व्यस्त है। वहीं दूसरी ओर अमेरिका की एक डिप्लोमैटिक रिपोर्ट ने भारत के लिए एक चौंकाने वाला खुलासा किया है।

अमेरिका और तालिबान के बीच संघर्ष पर विराम लगने के साथ ही अफगानिस्तान में शांति की उम्मीद की जा रही है। अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने ट्वीट कर कहा...

आतंक के खिलाफ सेना ने बड़ी कार्रवाई करते हुए पांच आतकवादियों को मौत के घाट उतार दिया। इसके साथ ही आतंकियों के हमले की साजिश को भी नाकाम कर दिया।