terrorist attack

जम्मू—कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने के बाद यहां के हालात काफी बदल गए हैं। लेकिन सुरक्षा के लिहाज से देखा जाए तो स्थिति अभी भी दयनीय ही बनी हुई है।

श्रीनगर: जम्मू कश्मीर में आर्टिकल 370 हटाएं जाने के बाद से लगातार घाटी में अमन-चैन और खुशहाली का माहौल का कायम हो रहा है। घाटी में फिर से चहल बढ़ने लगी है। इन्टरनेट सेवा की बहाली के साथ ही यहां पर विकास से जुड़े कार्य भी अब तेजी से शुरू कर दिए गये हैं। लेकिन …

जम्मू कश्मीर में 20 देशों के राजनयिक दौरे पर हैं। इस बीच बुधवार को श्रीनगर में आतंकी हमला हो गया। बता दें कि जिस जगह पर आतंकियों ने फायरिंग की, विदेशी राजनयिक वहां से एक किलोमीटर की दूरी पर ठहरे हुए हैं।

सऊदी अरब के सरकार मीडिया ने कहा कि हूती लड़ाकों की ओर से सऊदी अरब के आभा अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट में डर से भरा हुआ एक आपराधिक आतंकी हमला है।

किश्तवाड़ जिला मुख्यालय से करीब बीस किलोमीटर की दूरी पर स्थित डेडपेथ इलाके में आतंकियों ने पुलिस के वाहन को निशाना बनाकर ग्रेनेड से हमला कर दिया। हालांकि गनीमत ये रही कि आतंकी अपने निशाने से चूक गए और इस हमले में किसी भी तरह का नुकसान नहीं हुआ है।

भारत की सुरक्षा एजेंसियों की सतर्कता ने पाकिस्तान में बैठे आतंकियों के आकाओं की नींद उड़ा दी है जिसको लेकर उनको इस बात का डर सता रहा है कि फोन या सैटेलाइट का इस्तेमाल सुरक्षित नहीं है, ऐसे में अलग-अलग नाम से सोशल मीडिया पर अकाउंट्स बनाए गए हैं।

इस हमले में मारे गए लोग एक ही परिवार के हैं। उन्होंने कहा यह हमला खशारोड जिले के मुनाजारी गांव को निशाना बनाकर किया गया था। आपको बता दें कि मारे गए लोगों में आठ बच्चे, सात महिलाएं और तीन पुरुष शामिल हैं।

अफगानिस्तान में बृहस्पतिवार को हुए अलग-अलग आतंकी हमले से चारों तरफ मातम मचा हुआ है। इस हमले में सेना के 6 जवानों सहित लगभग 11 लोगों की मौत हो गई। बता दें, ये हमले ऐसे समय हुए हैं जब वर्षों से चल रहे संघर्ष को समाप्त करने के लिए अफगान नेता कतर में तालिबान से वार्ता कर रहे हैं।

जोरों-शोंरों के बीच कुंभ मेले में सुरक्षा के भी पुख्ता इंतजमात किए गए हैं। ऐसे में हरिद्वार रेलवे स्टेशन पर बुधवार को मॉक ड्रिल की गई। इस मॉक ड्रिल के दौरान रेलवे स्टेशन पर आतंकी हमला किया गया।

सीरिया (Syria) में एक बस को निशाना बनाते हुए उस पर हमला हुआ है। ये हमला दक्षिणी सीरिया  में हुआ, जिसमें कम से कम 28 लोगों की मौत हो गई है। बता दें, ये हमला उस इलाके में हुआ है, जहां कभी इस्लामिक स्टेट के आतंकियों का नियंत्रण था।