top news in hindi

कोरोना वायरस लोगों की जान ही नहीं ले रहा बल्कि इसके चलते कई घरों में महाभारत भी छिड़ गई है। दरअसल इसने कई पतियों की ऐसी पोल खोल दी है कि वह पति-पत्नी के बीच जंग का कारण बन गई है।

पूरी दुनिया को अपना गुलाम बनाने वाले इस खूंखार से निपटने का समय अब दूर नहीं रहा। जीं हां आफत मचा देने वाले इस कोरोना वायरस से छुटकारा पाने के लिए वैज्ञानिकों ने एक नया आइडिया सुझाया है।

महामारी कोरोना वायरस के संक्रमण से हाहाकार दुनियाभर में मचा हुआ है लेकिन अमेरिका में तबाही का मंजर बहुत ही भयावह होता जा रहा है। अमेरिका में लगभग 82 हज़ार लोगों को कोरोना वायरस ने अपनी गिरफ्त में ले लिया है।

महामारी कोरोना के बढ़ते संक्रमण से पूरा देश 21 दिनों के लिए लॉकडाउन कर दिया गया है। जिसके चलते सभी को अपने घर पर ही रहना होगा। लेकिन ऐसी परिस्थिति में लोगों के लिए टाइम बिताना बहुत बड़ा मुद्दा बना हुआ है।

पूरे देश में कोरोना वायरस के तेजी से बढ़ते संक्रमण और हो रही मौतों को ध्यान में रखते हुए पीएम मोेदी ने 21 दिनों के लॉकडाउन का ऐलान किया है। पीएम मोदी का ये फैसला अपने देशवासियों के सलामती के लिए है।

नई दिल्ली :  पांच साल पहले 16 दिसंबर की रात पांच दरिंदों ने 23 वर्षीया निर्भया के साथ क्रूरतम तरीके से सामूहिक दुष्कर्म किया था। पीड़िता को नाम दिया गया निर्भया। देश ही नहीं दुनिया में इस कांड की गूंज सुनाई दी। सरकारों ने कई वादे और दावे किए। निर्भया ने मौत से 13 दिन तक जूझते …

देश के सबसे पुराने केस अयोध्या के राम जन्मभूमि-बाबरी मामले में आज सुप्रीम कोर्ट ने अपना फैसला हिंदू पक्ष में सुनाया है।   अयोध्या के रामजन्मभूमि विवाद केस में सबसे बड़ा और अंतिम फैसला आया है कि विवादित स्थल पर ही मंदिर बनेगा।

अयोध्या रामजन्म-भूमि और बाबरी मस्जिद पर ऐतिहासिक फैसला आ चुका है। कोर्ट ने ये फैसला राम लला के पक्ष में सुनाया है। साथ ही ट्विटर पर डॉ. सुब्रह्मण्यम स्वामी जोकि भारतीय जनता पार्टी के कद्दावर नेता माने जाते है। इन्होंने अपने ट्विटर अकाउंट पर ट्वीट कर लिखा हैं- जय श्री राम। 

देश के सबसे पुराने केस में आज सुप्रीम कोर्ट ने अपना फैसला सुना दिया है। अयोध्या के रामजन्मभूमि विवाद केस में सबसे बड़ा और अंतिम फैसला आया है कि विवादित स्थल पर ही मंदिर बनेगा। कोर्ट ने राम लला के पक्ष में फैसला सुनाया है।ये बहुत बड़ा ऐतिहासिक फैसला है।

याद है 8 नंवबर का ऐतिहासिक दिन। जीं हां वहीं दिन जब 3 साल पहले देश में नोटबंदी हुई थी। आज के दिन एक बार फिर सभी यादें ताजा हो गई। 8 नवंबर 2016 को रात 8 बजे देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अचानक 500 और 1000 के नोटों को बंद करने की घोषणा की थी।