top news in hindi

देश के सबसे पुराने केस अयोध्या के राम जन्मभूमि-बाबरी मामले में आज सुप्रीम कोर्ट ने अपना फैसला हिंदू पक्ष में सुनाया है।   अयोध्या के रामजन्मभूमि विवाद केस में सबसे बड़ा और अंतिम फैसला आया है कि विवादित स्थल पर ही मंदिर बनेगा।

अयोध्या रामजन्म-भूमि और बाबरी मस्जिद पर ऐतिहासिक फैसला आ चुका है। कोर्ट ने ये फैसला राम लला के पक्ष में सुनाया है। साथ ही ट्विटर पर डॉ. सुब्रह्मण्यम स्वामी जोकि भारतीय जनता पार्टी के कद्दावर नेता माने जाते है। इन्होंने अपने ट्विटर अकाउंट पर ट्वीट कर लिखा हैं- जय श्री राम। 

देश के सबसे पुराने केस में आज सुप्रीम कोर्ट ने अपना फैसला सुना दिया है। अयोध्या के रामजन्मभूमि विवाद केस में सबसे बड़ा और अंतिम फैसला आया है कि विवादित स्थल पर ही मंदिर बनेगा। कोर्ट ने राम लला के पक्ष में फैसला सुनाया है।ये बहुत बड़ा ऐतिहासिक फैसला है।

याद है 8 नंवबर का ऐतिहासिक दिन। जीं हां वहीं दिन जब 3 साल पहले देश में नोटबंदी हुई थी। आज के दिन एक बार फिर सभी यादें ताजा हो गई। 8 नवंबर 2016 को रात 8 बजे देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अचानक 500 और 1000 के नोटों को बंद करने की घोषणा की थी।

अयोध्या राम-जन्मभूमि विवाद पर फैसला कुछ ही दिनों में आने वाला है। फैसले को लेकर न केवल उत्तर प्रदेश बल्कि पूरे भारत की सुरक्षा एजेंसियां अलर्ट पर हो गई हैं। बता दें कि गृह मंत्रालय ने राज्यों को एडवाइजरी जारी करके सुरक्षा व्यवस्था को सख्त करने के निर्देश दिए है।

भारत के लिए एक महान रत्न साबित हुए सर सीवी रमन की आज जन्म जंयती है। भौतिक विज्ञान में भारत के प्रथम नोबेल विजेता डॉ. सी.वी. रमन की कर्मस्थली कोलकत्ता रही है। इस शहर में उन्होंने नोबेल पुरस्कार हासिल करने की इबारत लिखी थी।

यह घोषणा सुनकर बुन्देलखण्ड के सभी लोगों को ख़ुशी हो रही है कि हमारी (ख़बर लहरिया समाचार चैनल) प्रधान संपादक कविता देवी TED Talks India Edition 2 में एक वक्ता हैं, जो 9 नवंबर को रात 9:30 बजे स्टार प्लस इंडिया पर प्रसारित हो रहा है।

इंफोसिस कंपनी का नाम तो आपने सुना ही होगा। ये कंपनी देश की बड़ी नामी कंपनियों में से एक है। आईटी कंपनी इंफोसिस के मैनेजमेंट पर लगे आरोपों पर कंपनी के चेयरमैन नंदन नीलेकणि का बयान आया है।

जबरदस्ती धर्म-परिवर्तन कराने को लेकर हिमाचल प्रदेश में नया कानून आया है। जीं हां यहां जबरन धर्मातरण पर रोक लगा दी गई है। जबरदस्ती, झांसा देकर या फिर लालच देकर धर्म-परिवर्तन करवाना अब जघन्य अपराध माना जाएगा।

क्या आपको पता है कि इस बार गुरुनानक देव जी 550 वीं जयंती है। जिसकी तैयारियां जोरो-सोरो से चल रही हैं। बात करें अगर गुरुद्वारे की तो ऐसे तो हर गुरुद्वारा अपने में बेहद खास है। पर आपको उस गुरुद्वारे के बारे में पता है जिसकी स्थापना खुद गुरुनानक देव जी ने की थी।