Transfer

उत्तर प्रदेश में अधिकरियों के तबादले का दौर जारी है। अब योगी आदित्यनाथ सरकार ने शुक्रवार रात 26 आईएएस अधिकारियों के तबादले कर दिए हैं। रितु माहेश्वरी को मुख्य कार्यपालक अधिकारी नोएडा बनाया गया है, तो वहीं माला श्रीवास्तव को बस्ती का डीएम बनाया गया है।

प्रदेश सरकार ने शुक्रवार को सात पुलिस उपाधीक्षकों का स्थानान्तरण कर दिया। इसमें सुरेन्द्र यादव को पुलिस उपाधीक्षक शामली के पद से हटाया दिया है।

स्वास्थ्य विभाग में पिछले दिनों हुये पैरामेडिकल संवर्ग के तबादलों में मिली अनियमितताओं व भ्रष्टाचार की शिकायत के बाद शासन ने गंभीर रूख दिखाते हुये इन तबादलों की जांच के लिए विशेष सचिव रमेश कुमार त्रिपाठी की अध्यक्षता में एक तीन सदस्यीय कमेटी का गठन किया है।

उत्तर प्रदेश में सीएम योगी की सरकार ने इस बार मुख्य चिकित्सा अधिकारीयों के तबादले किये हैं। ये तबादले स्वास्थ्य विभाग में किये गए हैं। जिसमें प्रदेश के 5 दर्जन से ज्यादा  मुख्य चिकित्सा अधिकारियों का तबादला किया गया है। 

बेसिक शिक्षा विभाग में रविवार को 47 अफसरों के तबादले हुए है। तबादलों में उमेश शुक्ला मंडलीय सहायक शिक्षा निदेशक लखनऊ, फतेह बहादुर सिंह उप प्राचार्य प्रशिक्षण संस्थान मिर्जापुर, कालीचरण भारती मंडलीय सहायक शिक्षा निदेशक, कानपुर बनाया गया है।

अफसरों के तबादले सूचना निदेशक शिशिर द्वारा किये गए हैं। तबादला करने की पहले से कोई प्रशासनिक योजना तैयार नही की गई थी, अचानक से ही अफसरों का तबादला किया गया।

उत्तराखंड सरकार ने प्रशासनिक तौर पर बड़ा फेरबदल किया है। प्रदेश सरकार ने 25 आईएएस और 9 पीसीएस अधिकारियों के ट्रांसफर कर दिए हैं।देहरादून, टिहरी, हरिद्वार, चंपावत, नैनीताल के ज़िलाधिकारियों को बदला गया है।

पिछली सरकार में मुख्यमंत्री कार्यालय में तैनात रह चुके एक विशेष मुख्य सचिव समेत तीन अन्य वरिष्ठ आईएएस अधिकारियों को अब भी कोई तैनाती नहीं दी गई है जबकि उनका ट्रांसफर करीब तीन हफ्ते पहले किया जा चुका था।

विभागीय सूत्रों ने बताया कि एक जिले से दूसरे जिले में शिक्षकों का तबादला जल्द शुरू किया जाएगा। बेसिक शिक्षा निदेशक ने शासन को अंतर जिले तबादले का प्रस्ताव भेज दिया प्रस्ताव को सरकार की मंजूरी मिलने के बाद ही शासनादेश जारी कर दिया जाएगा. अंतर जिला तबादले की प्रक्रिया जिले के अंदर स्थानांतरण व समायोजन के बाद शुरू करने का प्रस्ताव है।

लोकसभा चुनाव के नतीजे के बाद उत्तर प्रदेश में बड़े स्तर पर प्रशासनिक फेरबदल की तैयारी है। कृषि उत्पादन आयुक्त, चेयरमैन पिकप, चकबंदी आयुक्त के पद खाली हैं तो बेसिक शिक्षा, आबकारी, भूतत्व एवं खनिकर्म जैसे कई विभागों के मुखिया का पद अतिरिक्त प्रभार के भरोसे चल रहा है।