trending news

लखनऊः एक आज के बच्‍चों का बचपन है, जरा सी चीजें पहचानने की उम्र में ही उन्‍हें गैजेट्स वगैरह थमा दिये जाते हैं। एक बचपन हमारे बडे बुजुर्गों का था, जरा सी समझदारी आने पर उन्‍हें सबसे पहले चिड़िया रानी से मिलवाया जाता था। क्‍या आपको याद आया कुछ? थोडा सा दिमाग पर और जोर …

कानपुर : कानपुर के एक युवक ने लकड़ी कि गीता बनाई है। इसमें 706 श्‍लोक और 18 अध्याय हैं। यह गीता 32 पन्ने की है। इस युवक ने जब गीता बनानी शुरू की थी तो उस वक़्त वह गुजरात के तत्कालीन सीएम नरेंद्र मोदी को भेंट करना चाहता था। मोदी जब देश के पीएम बने …