two teachers

दोनों शिक्षिकाओं का दावा है कि उत्तर प्रदेश में लौटे प्रवासी मजदूर अगर गौ उत्पाद तैयार करें तो उन्हें रोजी रोटी के लिए कहीं बाहर नहीं जाना पड़ेगा । फिलहाल गौशाला चलाने वाली सरकारी शिक्षिकाएं गाय के गोबर से बने हैं । प्रोडक्ट को ऑनलाइन बेचने की तैयारी कर रही है।