uddhav thackeray

महाराष्ट्र की उद्धव ठाकरे सरकार ने राज्य में लॉकडाउन की अवधि फिर बढ़ा दिया है। सरकार ने लॉकडाउन को बढ़ाकर 31 दिसंबर मध्यरात्रि तक कर दिया है। उद्धव सरकार ने कोरोना पॉजिटिव मरीजों की बढ़ती संख्या को देखकर फैसला लिया है।

महाराष्ट्र की उद्धव सरकार ने 16 नवंबर से शर्तों के साथ सभी मंदिर खोले जाने की अनुमति दे दी है। मंदिरों में दर्शन के लिए जाने वाले श्रद्धालुओं को सरकार की तरफ से जारी गाइडलाइंस का पालन करना होगा

सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश एसए बोबडे की अध्यक्षता वाली पीठ ने यह भी कहा कि याचिकाकर्ता अर्नब गोस्वामी को उनके मामले के खिलाफ जारी विशेषाधिकार नोटिस में सुनवाई तक गिरफ्तार नहीं किया जा सकता है।

दरअसल रविवार को दशहरा भाषण के दौरान उद्धव ठाकरे ने कंगना रनौत या हिमाचल प्रदेश का नाम लिए बिना कहा था की कुछ लोग मुंबई रोजी-रोटी के लिए आते हैं और इसे पीओके बताकर गाली देते हैं।

महाराष्ट्र में उद्धव ठाकरे सरकार ने जिम और फिटनेस सेंटर्स खोलने की अनुमति दे दी है। साथ ही यह भी कहा है कि इसके लिए तैयार SOP का पालन करना अनिवार्य होगा। 

महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने अपने शिवसैनिक मुख्यमंत्री उद्धव बाल ठाकरे को राय दी| उद्धव उसे गाली मान बैठे| पलटवार कर दिया| शिष्ट तथा अशिष्ट के बीचवाली बारीक रेखा मिटा डाली|

राज्यपाल के पत्र का तीखा जवाब देते हुए मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा कि उनके हिन्दुत्व को राज्यपाल कोश्यारी के सर्टिफिकेट की जरूरत नहीं है। मुख्यमंत्री ने लिखा कि जिस तरह अचानक लॉकडाउन को लागू करना सही नहीं था, उसी तरह एक बार में इसे पूरी तरह हटाना भी सही कदम नहीं होगा।

महाराष्ट्र में वर्तमान लॉकडाउन 30 सितंबर को खत्म हो रहा है। इसके साथ ही राज्य सरकार ने अब रेस्तरां को फिर से खोलने के लिए एसओपी को तैयार कर ली है।

पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा नेता देवेंद्र फडणवीस और शिवसेना नेता संजय राउत के बीच हुई गुपचुप मुलाकात के एक दिन बाद ही राज्य के दो बड़े दिग्गजों की अचानक मुलाकात हुई।

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे, उनके मंत्री बेटे आदित्य और शरद पवार की सांसद बेटी सुप्रिया सुले की मुश्किलें बढ़ गई हैं। इन तीनों नेताओं पर झूठा हलफनामा देने का आरोप है।