unnao rape victim

उन्नाव बलात्कार पीड़िता के पिता की हत्या के मामले में आज दिल्ली की तीस हजारी कोर्ट ने दोषी करार दिया गया है। कुलदीप सेंगर को दुष्कर्म के मामले में पहले ही उम्र कैद की सजा सुनाई जा चुकी है।

अभी हैदराबाद का मामला शांत भी नहीं हुआ कि बुधवार सुबह उत्तर प्रदेश के उन्नाव जिले में गैंगरेप पीड़ित को आरोपियों ने मिट्टी का तेल डालकर आग के हवाले कर दिया। इस घटना लेकर लोगों में रोष है। पीड़िता शुक्रवार रात जिंदगी की जंग हार गई। सोशल मीडिया पर लोग आरोपियों को जल्द ही कड़ी सजा देने की मांग कर रहे हैं।

रायबरेली सड़क हादसे में घायल उन्नाव दुष्कर्म पीड़ित युवती के अधिवक्ता को भी मंगलवार दोपहर लखनऊ एयरपोर्ट से दिल्ली के लिए एयरलिफ्ट किया गया। इससे पहले कड़ी सुरक्षा के बीच सोमवार की देर शाम दुष्कर्म पीड़ित युवती को एयरलिफ्ट किया गया था।

बीती 28 जुलाई को रेप पीड़िता को ट्रॉमा सेंटर में भर्ती कराया गया था। वेंटिलेटर यूनिट में पीड़िता व उनके वकील का इलाज चल रहा था। केजीएमयू प्रवक्ता डॉ. संदीप तिवारी ने सोमवार को बताया कि इलाज के बाद पीड़िता की सेहत में सुधार हुआ था और उसने आंखे खोली तथा डॉक्टरों के इशारों को भी समझने की कोशिश की। दोपहर में सुप्रीम कोर्ट का आदेश करीब 2.50 बजे प्राप्त हुआ।

अखिलेश यादव ने कहा कि आरोपित भाजपा विधायक को यूपी से बाहर किसी जेल में भेजा जाए। इस घटना में रेप पीड़िता, उनका वकील गंभीर रूप से घायल हैं जब कि रेप पीड़िता की मौसी और चाची की मृृत्यु हो गई है। संदेह का कारण यह भी है कि पहले इस काण्ड के एक गवाह की जान जा चुकी है। रेप का आरोपी भाजपा विधायक अब भी पीड़ित परिवार को धमकियाँ दे रहा है।

रायबरेली में रविवार को एक सड़क दुर्घटना में उन्नाव रेप पीड़िता, वकील और कार ड्राइवर गंभीर रूप से घायल हो गये। जबकि इस हादसे में पीड़िता की चाची और उसकी मौसी दोनों की मौत हो गई।  हादसे के बाद उन्नाव रेप केस की पीड़िता लखनऊ के ट्रॉमा सेंटर में भर्ती है लेकिन उनकी हालत काफी नाजुक है।

घटना के वक्त पीड़िता कार में सवार होकर परिवार के साथ रायबरेली जेल में बंद अपने चाचा से मिलने जा रहे थी। पांचों एक ही कार में सवार थे। यह वही रेप पीड़िता है जिसके साथ दुष्कर्म के मामले में उन्नाव के बीजेपी विधायक कुलदीप सेंगर आरोपी हैं।