unnav rape case

स्टेशन जाने के रास्ते में ही आरोपियों ने उसे घेरकर आग के हवाले कर दिया। पीड़िता ने लगभग एक किमी तक उसी हालत में दौड़ लगाई। किसी के मोबाइल फोन से 112 को फोन किया और पुलिस को घटना की जानकारी भी दी।

लड़की के पिता ने कहा कि जिसे बेटा समझकर घर आने की इजाजत दी थी, उसी ने बेटी के साथ दुष्कर्म किया और वीडियो बना डाला। इन वीडियो के दम पर ही उसने बेटी के साथ कई बार जबरदस्ती की और मानसिक प्रताड़ना दी।

उत्तर प्रदेश के उन्नाव में मिलती-जुलती घटना हुई है। जिसमें दुष्कर्म के बाद एक युवती को जिंदा जलाने की घटना सामने आई है। बताया जा रहा है कि युवती को जलाने के बाद आरोपी फरार हो गए।

यह दर्दनाक घटना जलालपुर थाना क्षेत्र के चकौरा गांव में रविवार की सुबह उस समय हुई जब गा़व के संदीप राजभर उम्र 28 वर्ष पुत्र पुद्दन अपनी पत्नी बंदना के साथ अपने खपरैल वाले मकान में सो रहे थे। इसी बीच बगल में स्थित नन्दलाल के मकान की मिट्टी की दीवार लगातार हो रही बारिश के कारण समसमा कर उनकी दीवाल पर जा गिरी।

इस मुद्दे को अदालत ने गंभीरता लिया है और दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष को इस काम में मदद के लिए चुना। अदालत ने आयोग को निर्देश दिया कि वह अपनी एक टीम बनाकर शिकायतकर्ता और उसके परिवार वालों को यहां ठहराने की व्यवस्था करने में मदद करे।

समाजवादी महिला सभा उत्तर प्रदेश के कार्यकर्ताओं और कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने उन्नाव पीड़िता को न्याय दिलाने के लिए अलग-अलग कैंडल मार्च किया । कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने परिवर्तन चौक से गांधी प्रतिमा हजरतगंज लखनऊ तक पैदल मार्च निकला ।