up cm

त्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को यूपी 112 के व्हाट्सएप पर बाहूबली विधायक मुख्तार अंसारी को रिहा न करने पर जान से मारने की धमकी वाला मैसेज भेजने वाले शख्स का पता चल गया है।

सीएम योगी से मांग की गई है कि सभी पत्रकारों को नि:शुल्क दवा ईलाज व जिले व प्रदेश भर में सरकारी बस से आने जाने की सुविधा प्रदान की जाए।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की जान को खतरा है। उन्होंने यूपी 112 के व्हाट्सएप नंबर पर जान से मारने की धमकी मिली है।

वर्दी की बोली सिर्फ योगी सरकार में ही नहीं बल्कि अखिलेश या मायावती सरकार में भी लगती रही। पुलिस भ्रष्टाचार हर सरकार के कार्यकाल में देखने को मिलता रहा है। 

नागरिकता संशोधन कानून(CAA) को लेकर दिल्ली, यूपी समेत पूरे देश में हिंसा हो रही है। CAA को लेकर यूपी में जारी तनाव के बीच सीएम योगी ने शनिवार को राज्यपाल आनंदीबेन पटेल से मुलाकात की।

इसी क्रम में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लोगों को संबोधित किया। बता दें कि इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी देश के नाम संबोधन किया। 

प्राधिकरण मुख्य कार्यपालक अधिकारी ने शुक्रवार को एक दर्जन कर्मचारियों व अधिकारियों, ठेकेदार कंपनियों को पर सख्त एक्शन लिया है। स्वच्छता अतिक्रमण व अवैध निर्माण पर एक लेखपाल, एक सुपरवाइजर को निलंबित व प्रभारी सुपरवाईजर व अवर अभियंता को निष्कासित कर दिया।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने कहा कि मुख्यमंत्री ने भी स्वास्थ्य विभाग की शिथिलता और लापरवाही पर कोई संज्ञान नहीं लिया। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि अभी तक डेंगू से प्रदेश में सैकड़ों मौतें हो चुकी हैं।

यूपीडा के सीईओ अवनीश कुमार अवस्थी ने कहा है कि पूर्वांचल एक्सप्रेसवे का निर्माण कार्य प्रगति पर है और इस एक्सप्रेस वे के मुख्य मार्ग पर अगले वर्ष यानी 2020 में यातायात शुरू हो जाएगा।

प्रशासनिक सुधार एवं लोक सेवा मंत्रालय में सचिव पद पर आलोक टण्डन की तैनाती के बाद ‘प्रतीक्षारत आईआईडीसी्य यानी प्रमुख सचिव औद्योगिक विकास विभाग राजेश कुमार सिंह भी इस रेस में पीछे नही हैं।