US military

उत्तरी इराक के दूरदराज वाले किरकुक प्रांत में स्थित एक अमेरिकी सैन्य अड्डे पर गुरुवार (13 फरवरी) रात रॉकेट से हमला किया गया। इराकी और अमेरिकी सुरक्षा से मिली खबरों के अनुसार,हमले में किसी के हताहत होने की अभी तक कोई खबर नहीं है।

ईरान के सांसदों ने पिछले हफ्ते एक विधेयक को मंजूरी दी थी जिसमें मध्य-पूर्व में अमेरिकी फौज को आतंकवादी बताया गया था जिसके बाद यह विधेयक पेश किया गया है। इससे पहले अमेरिका ने ईरान के रिवॉल्यूशनरी गार्ड को आतंकवादी बताया था।

ट्ंरप ने हाल में कहा था , " गूगल अमेरिका की नहीं बल्कि चीन और उसकी सेना की मदद कर रहा है। "पिचाई से व्हाइट हाउस में मुलाकात के बाद ट्ंरप ने बुधवार को कहा , " पिचाई के साथ बैठक काफी अच्छी रही। "