US

सऊदी अरब के तेल ठिकानों पर ड्रोन हमले के बाद अमेरिका एक्शन में है। हमले के लिए ईरान को कसूरवार ठहरा चुके अमेरिका ने अब ईरान पर कड़े प्रतिबंध लगाने की घोषणा की है, साथ ही उस इलाके में सेना की तैनाती को भी मंजूरी दे दी गई है।

ईरान के सर्वोच्च नेता अली खामनेई ने ईरान किसी भी स्तर पर अमेरिका के साथ बातचीत नहीं करेगा। ईरानी नेता खामनेई ने सोशल मीडिया पर बयान जारी कर कहा कि ईरान पर दवाब बनाने की अमेरिकी नीति का कोई फायदा नहीं होगा।

सऊदी अरब के तेल ठिकानों पर हमले के बाद खाड़ी में संकट खड़ा हो गया है। इसके साथ ही अमेरिका और ईरान के बीच तनाव बढ़ गया है। हमले के बाद तेल उत्पादन क्षमता आधी रह गई है।

सऊदी अरब के तेल ठिकानों पर हमले के बाद अमेरिका और ईरान के बीच तनाव बढ़ गया है। इसके साथ ही खाड़ी में भी संकट खड़ा हो गया है। हमले के बाद तेल उत्पादन क्षमता आधी रह गई है।

अमेरिका के ह्यूस्टन शहर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए एक बड़े कार्यक्रम का आयोजन होने जा रहा है। इस कार्यक्रम में 50 हजार से ज्यादा लोग शामिल हो सकते हैं। 'हाउडी मोदी' कार्यक्रम का 22 सितंबर को आयोजन होगा।

देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का अमेरिका में एक कार्यक्रम का आयोजन होने वाला हैं। और अनुमान ये भी लगाया जा रहा हैं कि उस दौरे के समय डोनाल्ड ट्रंप भी उनके किसी कार्यक्रम में शामिल हो सकते हैं। उसमें 60 से अधिक प्रमुख अमेरिकी सांसद शिरकत करेंगे। 

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कबूल करते हुए कहा है कि 1980 के दशक में हमने मुजाहिदों को सोवियत के खिलाफ अफगानिस्तान में लड़ने की ट्रेनिंग दी। इनकी फंडिग अमेरिका की खुफिया एजेंसी CIA ने की।

अमेरिका और चीन के बीच करीब एक साल से ट्रेड वॉर जारी है जिसके प्रभाव से भारत समेत अन्य देश भी अछूते नहीं हैं। इस व्यापारिक तनाव से दोनों देशों को भी नुकसान काफी नुकसना हुआ है। लेकिन इस बीच दोनों के बीच सुलह होती दिख रही है। अमेरिका और चीन ने एक-दूसरे को कुछ रियायतें दी हैं।

पोम्पिओ को 11 सितंबर को लिखे गए पत्र में प्रमिला जयपाल ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय मीडिया और स्वतंत्र पर्यवेक्षकों को तत्काल जम्मू-कश्मीर में जाने की अनुमति मिलनी चाहिए ताकि वह मानवाधिकार उल्लंघनों की जांच कर पाएं।

ईरान और अमेरिका के बीच तनाव सातवें आसमाना पर है। चीन के साथ ट्रेड वॉर समेत दुनिया में कई बड़ी समस्याओं में अमेरिका उलझा हुआ है। इस बीच मंगलार को राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अपने राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (NSA) जॉन बोल्टन को बर्खास्त कर दिया।