uttar pradesh

इस समय कहीं कोई भूखा ना रहे। इसके लिए करीब-करीब हर जगह का प्रशासन काम कर रहा है। अधिकारी खुद इलाकों में जाकर वंचितों में खाना बांट रहे हैं। प्रस्तुत है यूपी के जिला मीरजापुर की रिपोर्ट...

प्रदेश में कोरोना संक्रमण को बढ़ने से रोकने के लिए राज्य सरकार हर संभव प्रयास कर रही है। खाने पीने से लेकर स्वास्थ्य सेवाओं तक की व्यवस्थाएं  की गयी है। मुख्यमंत्री स्वयं इन कार्यो की मानिटिंरग कर रहे हैं। इसके अलावा जो लोग जेलों में बंद है उनकी सूची तैयार की जा रही है।

पूरा प्रदेश इस समय लॉक डाउन की समस्या से जूझ रहा है। वहीं गरीब मजदूर अपने घरों से सैकड़ों किलोमीटर दूर रहकर अपनों से बिछड़ने के गम को  भूला नहीं  पा रहे हैं। 

देश में लॉकडाउन का आज चौथा दिन है। पीएम नरेंद्र मोदी से लेकर, दिल्ली के सीएम अरविन्द केजरीवाल और यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ सभी ने लोगों से अपने घरों में ही रहने की अपील की है।

देश में कोरोना वायरस के कारण लागू लॉकडाउन के कारण यूपी में सभी सरकारी-अर्ध सरकारी कार्यालय,निजी कंपनियां व अन्य व्यवसायिक प्रतिष्ठान बंद चल रहे हैं लेकिन इस बीच मार्च महीना समाप्त हो रहा है और इन कार्यालयों, कंपनियों व प्रतिष्ठानों के कर्मचारियों के वेतन का भुगतान होना है।

शुक्रवार को मौसम में आए अचानक बदलाव के बाद किसानों की धुकधुकी तेज हो गई हैं। फसलों को लेकर कृषि विज्ञान केंद्र के कुछ वैज्ञानिकों ने कई जरूरी टिप्स दिए हैं, जिससे फसलों को काफी हद तक बचाया जा सकता है...

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश के किसानों को बड़ी राहत देते हुए लॉकडाउन के दौरान भी खाद-बीज, कृषि रक्षा रसायनों की थोक और फुटकर दुकानें पहले की तरह खुली रहने की छूट दे दी है।

कोरोना वायरस से निपटने के लिए उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने एक्शन प्लान तैयार कर लिया है। इसके लिए वरिष्ठ अधिकारियों की 12 कमेटियां गठित की गयी हैं। ये कमेटियां अपर मुख्य सचिव वित्त की अध्यक्षता में काम करेंगी।

यूपी के बाराबंकी जिले में दिल्ली से अपनी गाड़ी से आये कोरोना के मरीज को पुलिस और स्वास्थ्य विभाग की टीम ने पकड़ लिया और उसे आनन फानन में अस्पताल पहुंचाया।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज एक बार प्रदेश के आलाधिकारियों के साथ बैठक कर प्रदेश में कोरोना संक्रमण के बढ़ते खतरे को रोकने के लिए आवश्यक निर्देश दिए।