Uttar Pradesh Legislative Assembly

राज्यपाल आंनदी बेन ने बिना रूके अपना पूरा अभिभाषण, लगभग एक घंटे में पूरा किया। राज्यपाल के अभिभाषण के चलते सत्र की शुरूआत संयुक्त अधिवेशन से हुई। बजट सत्र के शुरूआत के पहले दिन सपा के सदस्य जहां लाल टोपी में नजर आए, तो बसपा के सदस्य नीली टोपी में दिखाई दिए।

अगले साल होने वाले विधानपरिषद के स्नातक एवं शिक्षक क्षेत्र के होने वाले चुनाव के लिए समाजवादी पार्टी ने आज अपने पांच प्रत्याशियों की घोषणा कर दी। गौरतलब है कि अगले साल मई में स्नातक एवं शिक्षक क्षेत्र की 11 सीटें रिक्त हो रही हैं। जिनके लिए चुनाव होना है।

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कार्यकर्ताओं से 2022 के विधानसभा चुनाव के लिए अभी से जुटने का आह्वान करते हुए कहा है कि कार्यकर्ता बूथस्तर पर जाकर मतदाता सूची में नए नाम शामिल कराएं और समाजवादी प्रसार अभियान के तहत नए सदस्य बनाएं।

यूपी में अभी भी भले ही 12 विधानसभा सीटों के उपचुनाव के लिए तारीखों का ऐलान न हुआ हो पर भाजपा ने इन सभी सीटों के लिए अपनी तैयारियों को तेज कर दिया है। पिछली बार उपचुनाव सीटों को हारने वाली सत्ताधारी भाजपा इस बार फूंक फुंक कर कदम रख रही है।

अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित के बार-बार अनुरोध के बावजूद सपा सदस्य शांत नहीं हुए। इसके बाद सदन की बैठक 15 मिनट के लिए स्थगित कर दी गयी। बैठक फिर शुरू होने पर सपा सदस्य आसन के सामने से नहीं हटे, जिसके बाद बैठक दोपहर 12 बजकर 20 मिनट तक स्थगित की गयी।

पांच राज्यों में हुए विधानसभा चुनाव में मिली हार के बाद बीजेपी खेमे में मंथन का दौर जारी है। इस बीच वाराणसी पहुंचें यूपी के नगर विकास मंत्री सुरेश खन्ना ने चुनाव नतीजों को पार्टी के लिए सबक लेने वाला बताया।