vijaya ekadashi

भगवान श्री कृष्ण ने अर्जुन को विजया एकादशी का महत्व बताते हुए कहा था हे अर्जुन इस व्रत के विधान को सुनने और पढ़ने मात्र से व्यक्ति के समस्त पापों का अंत हो जाता है। देवर्षि नारद ने जब ब्रह्माजी से विजया एकादशी व्रत के महात्मा के बारे में पूछा तो ब्रह्मा जी ने कहा मैंने आज तक विजया एकादशी के व्रत को करने की विधि किसी को नहीं बताई आज तुमने पूछा है तो मैं तुमको यह परम गोपनीय रहस्य बताता हूं।

जयपुर: विजया एकादशी व्रत 11 फरवरी 2018 (रविवार) को है। यह व्रत भगवान विष्णु को प्रसन्न करने लिए किया जाता है। विजया एकादशी पंचांग के अनुसार फाल्गुन मास की एकादशी को पड़ती है। इस बार मान्यता के अनुसार इस व्रत को करने से ना केवल सभी कार्यों में सफलता मिलती है, बल्कि जन्म-जन्मांतर के पापों का भी …