Winter

अचानक से कुछ दिनों से ठंड बहुत ही कम पड़ रही है, लेकिन देश की राजधानी दिल्ली में रात 1:30 बजे के बाद से रुक-रुक कर हो रही बारिश हो रही है।

उत्तर भारत में बर्फबारी का सिलसिला अभी रुक ही नहीं रहा है। जिससे उत्तराखंड, हिमाचल और जम्मू-कश्मीर के लोगों की परेशानी बढ़ गई है।

भारत में पश्चिमी विक्षोभ की वजह से दिल्ली-NCR के साथ-साथ पूरे उत्तर भारत के मौसम में बदलाव आया है।

उत्तर भारत में शीतलहर व बर्फबारी की वजह से अभी ठंड का कहर जारी रहेगा। इसी को देखते हुए खबर आ रही है कि इस बार जनवरी का महीना बारिश के सभी रिकॉर्ड तोड़ सकता है।

इस बार की ठंड तो कम होने का नाम ही नहीं ले रही है, लगातार दिन पर दिन इसका कहर जारी है। ये सब पहाड़ी इलाकों में हो रही बर्फबारी की वजह से हो रहा है।

सर्दियों में तिल और तिल से बनी गजक, चिक्की और लड्डू खाने का मजा ही अलग होता है। हिन्दू धर्म में जनवरी के महीने में आने वाले 'मकर संक्राति' और 'संकष्टि चतुर्थी'  पर भी खास तौर पर तिल से पूजा की जाती है,साथ ही तिल से बने व्यंजनों को खाना शुभ माना जाता है।

उत्तर भारत के पहाड़ी इलाकों में शीतलहर की वजह से ठंड का कहर एकबार फिर बढ़ने लगा है। जिस वजह से उत्तर के सभी राज्यों में काफी ठंड पड़ रही है।

पहाड़ी इलाकों में पश्चिमी विक्षोभ की वजह से हर तरफ प्रदेश में हल्की से मध्यम बारिश हो रही है। राजधानी लखनऊ में भी देर रात से रूक-रूक कर बारिश हो रही है।

बता दें कि मंगलवार को शिमला, मनाली और कुफरी समेत हिमाचल प्रदेश के ऊंचाई पर स्थित इलाकों में बर्फबारी हुई। मौसम विभाग के अनुसार बर्फ गिरने के कारण पूरे राज्य में लगभग 100 सड़कें बंद हो गईं।

उत्तर भारत में ठंड का कहर अब भी जारी है। जिसकी वजह से मैदानी क्षेत्र में भी ठंड बढ़ने लगी है। वैसे तो, दिल्ली और NCR में रविवार को दिन भर धूप निकली रही।