worker

कोरोना वायरस की तबाही से पूरा देश बुरी तरह से जूझ रहा है। इन हालातों में बड़े उद्योग से लेकर दिहाड़ी मजदूर तक सभी वर्ग के लोग प्रभावित हुए हैं। ऐसे में अर्थव्यस्वथा को पटरी पर लाने के लिए उद्योग-धंधे फिर से शुरू हो गए हैं।

लॉकडाउन के चलते सबसे ज्यादा परेशानी झेल रहे हैं मजदूर वर्ग के लोग। कोरोना के चलते लॉकडाउन लागू होने की वजह से भारी संख्या में मजदूर दूसरे राज्यों में फंस गए हैं।

मजदूर कभी किसी ट्रक, तो कभी पैदल या साईकिल के जरिए ही घर वापसी को निकल पड़ते हैं। घर वापसी को लेकर उन्ह यहीं जल्दबाजी मजदूरों की जान खतरे में डाल रही है।

उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है। यहा एक मजूदर एसएसपी ऑफिस में सिक्कों से भरा थैला लेकर पहुंच गया। उसने बताया कि नोटबंदी के दौरान उसकी मां को बैंक ने 2500 रुपये के ये सिक्के दिए थे।

केंद्रीय कर्मचारियों के लिए बड़ी खुशखबरी है। कर्मचारियों को इस बार 5 दिन पहले ही सैलरी मिल जाएगी। केंद्र सरकार ने सभी विभागों को आदेश दिया है कि वे 25 सितंबर तक हर हाल में अपने कर्मचारियों की सैलरी पेमेंट फाइल बैंकों को ट्रांसफर कर दें।

देश में सभी नौकरी करने वालों का अपना प्रॉविडेंट फंड (पीएफ) अकाउंट होता है। पहले पीएफ अकाउंट से पैसे निकालने में ग्राहकों को कई परेशानियों का सामना करना पड़ता था, लेकिन अब ईपीएफओ पोर्टल के माध्यम से ऑनलाइन पैसा आसानी से निकाला जा सकता है। पहले पैसे निकालने में कई सप्ताह लग जाते थे।

केरल में अज्ञात हमलावरों ने युवा कांग्रेस दो कार्यकर्ताओं की हत्या कर दी है। युवा कांग्रेस के कार्यकर्ताओं की हत्या राज्य के उत्तरी जिले कासरगोड में रविवार रात की गई।

बरेली: यूपी के बरेली में एक राजमिस्त्री को अपनी मजदूरी मांगने की कीमत अपनी जान देकर चुकाना पड़ी है। पुलिस ने राजमिस्त्री की हत्या करने वाले आरोपी फौजी को गिरफ्तार कर लिया और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। यह मामला थाना बारादरी क्षेत्र की पशुपति कॉलोनी का मामला है। …

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के संसदीय क्षेत्र में स्थित संजय गांधी हास्पिटल के वर्करों ने वेतन वृद्धि एवं अन्य मांगों को लेकर आज 22 वें दिन अर्द्धनग्न अवस्था में प्रदर्शन किया।प्रदर्शनकारियों के प्रदर्शन के चलते ओपीडी आदि सेवा पूरी तरह बाधित रही।आपको