World Population Day

जनसंख्या किसी देश के लिए वरदान होती है, लेकिन जब यह अधिकतम सीमा रेखा को पार कर जाती है, तब यह अभिशाप बन जाती है। लोगों को रहने के लिए अब जगह की कमी हो गई है। इसीलिए लोगों को जागरुक करने के लिए हर साल पूरी दुनिया में 11 जुलाई को विश्व जनसंख्या दिवस मनाया जाता है।

हेल्थ मैनेजमेंट इन्फोर्मेशन सिस्टम (एचएमआईएस) के अनुसार प्रदेश की राजधानी लखनऊ में 2018-2019 में केवल 380 पुरुषों ने ही नसबंदी करायी है। जबकि राष्ट्रीय परिवार एवं स्वास्थ्य सर्वेक्षण (एनएफएचएस-4) के अनुसार यूपी में केवल दशमलव एक प्रतिशत पुरुष ही नसबंदी करवाते हैं।