yogi adityanath

कोरोना वायरस से लड़ने के लिए समाज के अलग-अलग तबके के लोग मदद के लिए आगे आ रहे हैं। केंद्र और राज्य सरकारें भी इसमें लगी हुई हैं। कोरोना से लड़ाई में पैसे की कोई कमी न हो इसके लिए सांसदों और विधायकों ने पहले ही अपनी विधायक निधि से फंड दिया है।

प्रयागराज में हुई घटना को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कड़ा रुख अपनाते हुए दोषियों के खिलाफ राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत कार्यवाही करने को कहा है। मुख्यमंत्री ने मृतक के परिजनों को मुआवजा देने का भी ऐलान किया है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि सांसदगण का आम जनता से सीधा संवाद है। राज्य सरकार ने ठेला, खोमचा, पल्लेदार, रिक्शा, ई-रिक्शा आदि चलाने वाले दिहाड़ी मजदूरों को राहत पहुंचाने के लिए उनके बैंक खातों में 1000 रुपये भेजने की घोषणा की है।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को 75 जनपदों के 377 धर्मगुरुओं के साथ बैठक की। ये बैठक वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये हुई। इसमें कोरोना से निपटने की तैयारियों के संबंध में चर्चा की गई।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 5 अप्रैल को रात्रि 9 बजे घर की बत्तियां बुझाकर, 9 मिनट तक दीया, मोमबत्ती, टाॅर्च, मोबाइल फ्लैश लाइट आदि जलाने का आह्वान किया है।

यूपी में कोरोना संक्रमण से प्रभावित लोगों की कुल संख्या 227 हो गयी हे। इन 227 में से 94 मामले तब्लीकी जमात के है। 2 दिनों में तबलीगी जमात की वजह से मामले अचानक बढ़े।

कोविड-19 के संबंध में राष्ट्रपति राम नाथ कोविन्द एवं उपराष्ट्रपति एम0 वेंकैया नायडु द्वारा प्रदेश के राज्यपालों के साथ आज की गयी वीडियो कांफ्रेंसिंग के दौरान उत्तर प्रदेश की राज्यपाल श्रीमती आनंदीबेन पटेल ने बताया कि प्रदेश में कोरोना के 120 पाजिटिव केस मिले हैं।

बेसिक शिक्षा मंत्री सतीश चन्द्र द्विवेदी ने प्रदेश भर के बेसिक स्कूलों के शिक्षकों और शिक्षा अधिकारियों की तरफ से मुख्यमंत्रीम राहत कोष में दिया बड़ा सहयोग वो भी पूरे 76 करोड़ 14 लाख 55 हजार का योगदान।

यूपी केे सीएम के योगी आदित्यनाथ ने लॉक डाउन के चलते यूपी के जरूरतमंद लोगों के लिए उपहार यानी खजाना खोल दिया है। सीएम योगी ने शुक्रवार को सीएम आवास पर एक क्लिक कर 871 करोड़ रुपए ऑनलाइन ट्रांसफर किए।

यूपी में सीएम योगी ने लॉकडाउन को लेकर बड़ा आदेश दिया है। लॉकडाउन के दौरान यूपी के कई हिस्सों में पुलिसकर्मियों के साथ मारपीट की घटना सामने आने के बाद सीएम योगी ने अब ऐसे उपद्रवियों पर राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के जरिए कार्रवाई करने का आदेश दिया है।