yogi adityanath

राज्य कर्मचारियों एवं शिक्षकों के सबसे बडे संगठन राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद ने अपनी 11 सूत्रीय मांगा को लेकर राज्य सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि यदि 27 अगस्त तक मांगों पर समुचित कार्यवाही न की गई तो प्रदेश में बृहद स्तर पर जिला मुख्यालयों में धरना प्रर्दशन किया जायेगा।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में सोमवार को यूपी कैबिनेट बैठक हुई। इस बैठक में कैबिनेट ने कई प्रस्तावों पर मुहर लगाई। इसमें गोवंश सहभागिता योजना' के संबंध में प्रस्ताव पास हुआ।

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि योगी को सत्य बोलना चाहिए। योगी वह होता है जो दूसरों के दुख से दुखी हो। अब यह तो बताना चाहिए कि सोनभद्र में किसके दबाव में जमीन का दाखिल-खारिज हुआ।

समाजवादी पार्टी 9 अगस्त को क्रांति दिवस के मौके पर योगी सरकार के खिलाफ 25 मुद्दों को लेकर प्रदेश के सभी जिला मुख्यालयों पर धरना प्रदर्शन करेगी।

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत एक करोड़ 51 लाख किसान इस अभियान में शामिल होंगे। इसी प्रकार, सभी जनपदों में गांधी उपवन की स्थापना की जा रही है।

उन्नाव की रेप पीड़िता के मामले में समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा ने अब तक पीड़ित पक्ष के प्रति असम्मान और उपेक्षा का रवैया अपनाया है, इसकी जितनी भत्र्सना की जाये कम है।

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि रामपुर के सपा सांसद मोहम्मद आजम खां को फर्जी केसों में बदले की भावना से फंसाकर उनको बदनाम करने की साजिश हो रही है। उनके द्वारा स्थापित मोहम्मद अली जौहर विश्वविद्यालय को बर्बाद करने का काम हो रहा है।

उन्नाव रेप केस को लेकर समाजवादी पार्टी ने योगी सरकार पर तीखा हमला बोला है। सपा का कहना है कि सीएम आदित्य नाथ, बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेगर और डीजीपी ओपी सिंह के हटे बिना पीड़िता को न्याय नहीं मिलेगा।

यूपी में विधानसभा चुनाव के पहले भाजपा पार्टी सदस्यों की संख्या बढ़ाने को लेकर बेहद गंभीर दिख रही है। पार्टी 1 से 11 अगस्त तक विस्तारक सदस्यता अभियान के माध्यम से पूरे प्रदेश में 80 लाख नए सदस्य को पार्टी से जोड़ने का लक्ष्य रखा गया है।

तीन तलाक बिल मंगलवार को लोकसभा के बाद अब राज्यसभा से भी पास हो गया है। इस बिल के समर्थन में 99 और खिलाफ 84 वोट पड़े। अब इस बिल को राष्ट्रपति के पास भेजा जाएगा। राज्यसभा में तीन तलाक बिल को सेलेक्ट कमेटी के पास भेजने का प्रस्ताव वोटिंग के बाद गिर गया।