#yogiadityanath

डॉ. निर्मल ने प्रियंका गांधी के उत्तर प्रदेश में दलितों पर अत्याचार बढ़ने के मामले में पटलवार किया है। प्रियंका गांधी ने ट्वीट कर कहा था कि यूपी में दलितों पर अपराध बढ़े हैं। प्रियंका को कांग्रेस और कांग्रेस समर्थित सरकारों के दौरान दलित नरसंहार के आंकड़े जुटाने चाहिए।

गोरखपुर के सभी थाना क्षेत्रों में महिला आरक्षियों को आज 100 स्कूटी दिए गए हैं, ताकि वह अपने क्षेत्रों में गश्त कर सकें।

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा को दिल्ली स्थिति लोधी एस्टेट के सरकारी बंगले को खाली करने का नोटिस मिला है। ऐसे में सूत्रों से पता चला है कि अब प्रियंका गांधी उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में अपना आवास बनाएंगी।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बताया कि श्रमिकों को अब तक 2594.82करोड़ रूपये का भुगतान कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि उत्तर प्रदेश रोजगार उपलब्ध कराने एवं मजदूरी भुगतान में देश में प्रथम स्थान पर है।

मुख्यमंत्री ने मृतकों के शोक संतप्त परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की है। उन्होंने अधिकारियों को पूरी तत्परता से प्रभावितों को राहत एवं मदद पहुंचाने के निर्देश दिए हैं।

मुख्यमंत्री जी ने यह विचार आज यहां अपने सरकारी आवास पर ‘विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान’ के द्वितीय चरण के शुभारम्भ अवसर पर व्यक्त किए। उन्होंने कहा कि जल जनित व विषाणु जनित रोगों पर नियंत्रण के लिए आवश्यक है कि साफ-सफाई की जाए व स्वच्छता को अपनाया जाए।

मुख्यमंत्री ने टेस्टिंग क्षमता में लगातार वृद्धि के निर्देश देते हुए कहा कि टेस्टिंग क्षमता बढ़ाने के लिए विभिन्न संस्थानों में उपलब्ध संसाधनों का पूरा उपयोग किया जाए। ट्रूनैट मशीनों तथा रैपिड एन्टीजेन टेस्ट मशीनों को पूरी क्षमता से संचालित करते हुए ज्यादा से ज्यादा टेस्ट किए जाएं।

पिछले साल लोकसभा चुनाव के पहले प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बुंदेलखंड में नमामि गंगे तथा ग्रामीण पेयजल मिशन के तहत घर-घर पानी पहुंचाने के लिए नौ हजार करोड़ की‘हर घर जल’ पेयजल योजना की घोषणा की थी। यह योजना अब धरातल पर उतरने जा रही है।

अस्पतालों में पीपीई किट, एन-95 मास्क, ग्लव्स, सेनिटाइजर आदि की सुचारु व्यवस्था सुनिश्चित की जाए।अधिकारियों के साथ बैठक के दौरान उन्होंने कहा कि पीएसी वाहिनी जैसे स्थान, जहां सामूहिक रूप से लोगों को रहना पड़ता है, वहां दो गज की दूरी के नियम का अनिवार्य रूप से पालन सुनिश्चित किया जाए।

यह सुनिश्चित किया जाए कि डाॅक्टर व नर्सिंग स्टाफ नियमित राउण्ड लें तथा पैरामेडिक्स द्वारा रोगियों की निरन्तर माॅनिटरिंग की जाए। उन्होंने सभी मुख्य चिकित्सा अधिकारियों को अपने-अपने जनपद के चिकित्सालयों का नियमित निरीक्षण करने को कहा।