इस देश में मोहब्बत के लिए है 8 दिन, मिलता है यहां ‘प्यार का LEAVE’

आज के समय में ऑफिस से छुट्टी मिलनी ही मुश्किल होती है। जीवनशैली में आपको अपने लिए समय निकालना भी मुश्किल होता है। ऐसे में खासकर युवाओं के लिए अपने पार्टनर के साथ क्वालिटी टाइम बिताना मुश्किल है। लेकिन क्या आपको पता है कि एक स्कूल ऐसा भी है जहां लव लीव यानि प्यार की छुट्टी भी मिलती है।

Published by suman Published: February 6, 2020 | 12:06 pm

नई दिल्ली: आज के समय में ऑफिस से छुट्टी मिलनी ही मुश्किल होती है। जीवनशैली में आपको अपने लिए समय निकालना भी मुश्किल होता है। ऐसे में खासकर युवाओं के लिए अपने पार्टनर के साथ क्वालिटी टाइम बिताना मुश्किल है। लेकिन क्या आपको पता है कि एक स्कूल ऐसा भी है जहां लव लीव यानि प्यार की छुट्टी भी मिलती है।
दुनिया में अनोखी परंपराएं और नियम  हैं। आज हम आपको बताते हैं लव लीव मिलने वाला स्कूल किस देश में है जहां लव लीव मिलती है और आखिर इस छुट्टी को देने की वजह क्या है।

 

यह पढ़ें…कल से करेंगे प्यार की तलाश तो इन रंगों का पहने लिबास, हमसफर नहीं छोड़ेगा साथ


प्यार की छुट्टी

इस देश में मिलती है लव लीव-प्यार की छुट्टी देने वाला स्कूल चीन में मौजूद है। यहां के जेहिआंग शहर के डींगलान एक्सपेरिमेंटल मिडिल स्कूल में लव लीव दी जाती है। इस देश में मोहब्बत के दीवानों को मिल रही हैं स्पेशल छुट्टियां। सुनकर हैरानी भी हुई होगी और खुशी। इसके पीछे छिपा है एक खास मकसद। इस स्कूल में ये छुट्टियां देने की वजह टीचरों को निजी जिन्दगी के लिए थोड़ा समय देना है ताकि वो अपने रिश्ते सुधार सकें। वहीं कुंवारी टीचरों को नए लोगों से मिलने और संभावित रिश्तों को समय देने के लिए ही ये लव लीव दी जाती हैं।


खास शर्त

छुट्टी लेने की सुविधा का मजा आपको तभी मिलेगा जब आप एक खास शर्त पूरी करेंगे। शर्त में कहा गया है है कि जो भी यह छुट्टी लेना चाहता है उसमें शामिल कर्मचारी सिंगल महिला होनी चाहिए, जिसकी उम्र 30 के आसपास हो। इन महिलाओं को ये 8 दिनों की छुट्टियां इसलिए दी जा रही हैं, ताकि ये सिंगल महिलाएं अपने प्यार को जल्द तलाश सकें।

 

यह पढ़ें…अच्छा तो! ये बड़ी वजह है, जो शादी से दूर भाग रहे आज के ज्यादातर यंगस्टर्स


शादी से दूरी

चीन में लड़कियों के अकेले रहने का चलन तेजी से बढ़ रहा है।यहां लोग करियर में सफलता पाने के लिए शादी करने से कतरा रहे हैं।यहां लोगों को शादी किसी बंधन से कम नहीं लगता है।बावजूद इसके महिलाओं पर शादी का दबाव लगातार बना हुआ है।चीन की घटती जनसंख्या दर भी इस दबाव की एक बड़ी वजह बन रही है।वहां की सरकार चाहती है कि लोग शादियां करें और बच्चें पैदा करें।