Top

कल से 13 अंक के हो जाएंगे आपके मोबाइल नंबर, जानें ये खास वजह

Charu Khare

Charu KhareBy Charu Khare

Published on 30 Jun 2018 12:17 PM GMT

कल से 13 अंक के हो जाएंगे आपके मोबाइल नंबर, जानें ये खास वजह
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्‍ली: भारत में दो दिन बाद यानि एक जुलाई से मोबाइल नंबरों को लेकर बड़ा बदलाव होने जा रहा है। एक जुलाई 2018 से मोबाइल के नंबर 13 अंकों के हो जाएंगे। 1 जुलाई 2018 से नया नंबर लेने वाले ग्राहकों को 13-अंकों का मोबाइल नंबर दिया जाएगा। इसके लिए तैयारी भी लगभग पूरी हो चुकी है।

सरकार ने इसके लिए सभी राज्यों को निर्देश जारी कर दिए हैं।मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक दूरसंचार विभाग के अधिकारियों ने कहा कि 10 अंकों के लेवल में अब नए मोबाइल नंबर जारी करने की कोई गुंजाइश नहीं बची है। लिहाजा इस बात की पहले से ही जरूरत महसूस की जा रही थी कि अब 10 से अधिक अंकों वाले मोबाइल नंबरों की सीरीज शुरू करनी होगी। इसके बाद इन्‍हें 13 नंबरों का कर दिया जाएगा।

मोबाइल यूजर्स लगभग 48 करोड़

भारत में मोबाइल इंटरनेट यूजर्स की संख्या जून तक 47.8 करोड़ तक पहुंचने की उम्मीद है। इंटरनेट एंड मोबाइल एसोसिएशन ऑफ इंडिया (आईएएमएआई) और कंटार-आईएमआरबी द्वारा संयुक्त रूप से प्रकाशित रिपोर्ट में बताया गया है कि 2017 के दिसंबर तक मोबाइल इंटरनेट यूजर्स की संख्या 17.22 फीसदी बढ़कर 45.6 करोड़ यूजर्स तक पहुंच गई। इस रिपोर्ट में देश में मोबाइल इंटरनेट की लोकप्रियता को दर्शाया गया है, जो कि किफायती होने के कारण लोकप्रिय हो रही है। रिपोर्ट में कहा गया है कि शहरी भारत में साल-दर-साल अनुमानित वृद्धि दर 18.64 फीसदी रही, जबकि ग्रामीण भारत में इसी अवधि (दिसंबर 2016 से दिसंबर 2017) के दौरान अनुमानित वृद्धि दर 15.03 फीसदी रही है।

वर्ष 2002 में इसी तरह बदल गए थे फोन नंबर

ऐसा पहली बार नहीं हो रहा है जब दूरसंचार मंत्रालय ने इस तरह का निर्णय लिया गया है। इससे पहले नवंबर 2002 में भी देश के सभी टेलीफोन नंबरों के आगे 2 लगा दिया गया था, जिसकी वजह से सभी टेलीफोन नंबर बदल गए थे। जिसमें दिल्ली, मुंबई, कोलकाता, चैन्नई जैसे महानगरों में इस्तेमाल होने वाले टेलीफोन की संख्या 7 अंकों से बढ़कर 8 अंकों की हो गई थी। वहीं, टीयर टू शहरों के टेलीफोन की संख्या 6 अंकों से 7 अंकों की हो गई थी।

अपडेट होंगे सभी सिस्‍टम

दूरसंचार विभाग के मुताबिक, मोबाइल नंबर की नई सीरीज आने से सभी टेलिकॉम ऑपरेटरों को अपना सिस्टम अपडेट करना होगा। इस संबंध में सभी सर्कल की दूरसंचार कंपनियों को आदेश जारी कर दिया गया है। भारत संचार निगम लिमिटेड के वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक, दिसंबर 2018 तक पुराने नंबर भी इस प्रक्रिया के तहत अपडेट होंगे। हालांकि अभी यह तय नहीं हुआ है कि वर्तमान में चल रहे नंबरों को किस तरह अपडेट किया जाएगा। यह प्रक्रिया अक्टूबर से शुरू होगी और 31 दिसंबर तक पूरी कर ली जाएगी। अधिकारी अभी यह तय नहीं कर पा रहे हैं कि अतिरिक्त 3 डिजिट, पुराने नंबरों में आगे की तरफ जोड़ा जाए या पीछे की तरफ।

सॉफ्टवेयर भी होंगे अपडेट

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, वर्तमान में 10 अंकों के हिसाब से मोबाइल सॉफ्टवेयर बनाया गया है। आने वाले समय में 13 अंकों के हिसाब से मोबाइल सॉफ्टवेयर भी अपडेट किया जाएगा, ताकि यूजर्स को कॉल करने में असुविधा न हो।

Charu Khare

Charu Khare

Next Story