Top

लिटिल चैंप्स बने राम-सीता,छोटे रावण को देख लोग बोले 'वाह भाई वाह'

बडौत में छोटे-छोटे बच्चों को लेकर स्कूल कमेटी द्वारा रामलीला का मंचन किया गया। जिसमें श्रीरामचंद्र जी की भूमिका में कक्षा 9वी के छात्र प्रशान्त राणा ने किरदार अदा किया तथा वहीं कक्षा सातवी की छात्रा हरलीन ने सीता माता की भूमिका में रोल प्ले किया

priyankajoshi

priyankajoshiBy priyankajoshi

Published on 8 Oct 2016 11:40 AM GMT

लिटिल चैंप्स बने राम-सीता,छोटे रावण को देख लोग बोले वाह भाई वाह
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

kkk

बागपत: बडौत मे दिल्ली-सहारनपुर हाईवे रोड पर स्थित वनस्थली पब्लिक स्कूल और जे पी पब्लिक स्कूल मेें स्कूल कमेटी की ओर से शनिवार को बच्चों ने रामलीला का मंचन किया। इसमें छोटे-छोटे बच्चों ने रामलीला के किरदारों में लीन होकर अपने-अपने रोल्स बखूबी निभाये और वहाँ मौजूद सभी लोगों का दिल जीत लिया।

बडौत में छोटे-छोटे बच्चों को लेकर स्कूल कमेटी द्वारा रामलीला का मंचन किया गया। जिसमें श्रीरामचंद्र जी की भूमिका में कक्षा 9वी के छात्र प्रशान्त राणा ने किरदार अदा किया तथा वहीं कक्षा सातवी की छात्रा हरलीन ने सीता माता की भूमिका में रोल प्ले किया। मंच पर दोनों ही कलाकारों ने अपनी-अपनी भूमिका में ऐसा जीवंत रोल प्ले किया कि देखने वाले हतप्रभ हो गए। मौजूद दर्षकों ने दोनों ही छात्रों की जमकर तारीफ की। नौवी के छात्र विजय डागर ने रावण की भूमिका निभाई। रावण के रोल को भी दर्षकों ने जमकर सराहा।

hakaइसी के साथ ही सहायक कलाकारों ने भी अपनी-अपनी भूमिका में संजीदगी दिखाते हुए अपना रोल प्ले किया। कार्यक्रम में राम-सीता विवाह, भरत मिलाप व राम-रावण युद्ध व गरबा नृत्य का विशेष रूप से मंचन किया गया। जिसमें प्ले कक्षा से लेकर सभी बच्चों ने जमकर भाग लिया। इस अवसर पर प्रधानाचार्य की ओर से बच्चों को प्राइज़ भी मिला।

इस मौके पर प्रधानाचार्य ने प्राचीन काल से चली आ रही दशहरे की प्रथा के बारें में बताते हुए कहा कि इस पर्व का मतलब है बुराई पर अच्छाई की विजय। उन्होनें बच्चों को भी राम-रावण व अन्य बुराई और अच्छाई से बच्चों को सीख लेने के उदाहरण देते हुए सभी को अच्छा बनने की सलाह दी।

priyankajoshi

priyankajoshi

इन्होंने पत्रकारीय जीवन की शुरुआत नई दिल्ली में एनडीटीवी से की। इसके अलावा हिंदुस्तान लखनऊ में भी इटर्नशिप किया। वर्तमान में वेब पोर्टल न्यूज़ ट्रैक में दो साल से उप संपादक के पद पर कार्यरत है।

Next Story