Top

हार्ट पेशेंट्स के लिए बड़ी खुश खबरी, NPPA ने स्टेंट के दाम में 85% तक की कटौती की

आज के दौर में अलग-अलग वजहों के चलते लोगों की बीमारियाँ बढ़ती जा रही है। इसी बीच हार्ट अटैक से होने वाली मौतों की संख्या भी बढ़ रही है। कुछ समय पहले सरकार ने हार्ट पेशेंट के लिए बड़ी उपयोगी स्टेंट की कीमतें कम करने का ऐलान किया था।

tiwarishalini

tiwarishaliniBy tiwarishalini

Published on 15 Feb 2017 11:14 AM GMT

हार्ट पेशेंट्स के लिए बड़ी खुश खबरी, NPPA ने स्टेंट के दाम में 85% तक की कटौती की
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ : आज के दौर में अलग-अलग वजहों के चलते लोगों की बीमारियाँ बढ़ती जा रही है। इसी बीच दिल की बिमारियों से होने वाली मौतों की संख्या भी बढ़ रही है। कुछ समय पहले सरकार ने हार्ट पेशेंट के लिए बड़ी उपयोगी स्टेंट की कीमतें कम करने का ऐलान किया था। मंगलवार को सर्कार ने आखिरकार रोगियों को बड़ी राहत देते हुए सरकार ने कोरोनरी स्टेंट की कीमत 85 फीसदी तक कम कर ही दी। इसके साथ ही बेयर मेटल के स्टेंट की कीमत 7260 रुपये और दवा घुलने वाले स्टेंट के दाम 29,600 तय किए हैं।

-NPPA(बी नेशनल फार्मास्यूटिकल प्राइसिंग अथॉरिटी) ने एक नोटिफिकेशन के ज़रिये इसकी जानकारी दी।

-नोटिफिकेशन में लिखा था कि बेयर मेटल स्टेंट के दाम 7260 रुपये और दवा घुलने वाले स्टेंट और बायोरिसॉर्बेबिल वस्क्युलर स्काफोल्ड (बीवीएस) या बायोडिग्रेडेबिल स्टेंट की कीमत 29,600 रुपये निर्धारित कर दी है।

-इससे हृद्य रोगियों की होने वाली सर्जरी की लागत में निश्चित तौर पर कमी आएगी।

-NPA की वेबसाइट पर जारी जानकारी के अनुसार अस्पताल सबसे ज्यादा मुनाफा स्टेंट से कमाते हैं। इनसे 654 फीसदी तक का लाभ अस्पतालों द्वारा कमाया जाता है।

-सरकार ने जुलाई 2016 में कोरोनरी स्टेंट को आवश्यक दवाओं की राष्ट्रीय सूची (एनएलईएम) 2015 में शामिल किया था।

-दिसंबर 2016 में स्टेंट को दवा मूल्य नियंत्रण आदेश (डीपीसीओ) 2013 की पहली अनुसूची में शामिल किया गया था।

tiwarishalini

tiwarishalini

Excellent communication and writing skills on various topics. Presently working as Sub-editor at newstrack.com. Ability to work in team and as well as individual.

Next Story