Top

नवाज के पंजाब पर इमरान की नजर, प्रांतीय सरकार बनाने को तैयार पीटीआई प्रमुख

Aditya Mishra

Aditya MishraBy Aditya Mishra

Published on 28 July 2018 1:04 PM GMT

नवाज के पंजाब पर इमरान की नजर, प्रांतीय सरकार बनाने को तैयार पीटीआई प्रमुख
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: पाकिस्तान के पीएम बनने को तैयार इमरान खान की नजर पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के गढ़ पंजाब पर टिकी है। पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ के प्रमुख निर्दलीय प्रत्याशियों ही नहीं अपने प्रतिद्वंद्वियों के साथ भी गठबंधन कर प्रांतीय सरकार बनाने को तैयार हैं। पंजाब में नवाज की पार्टी पीएमएल-एन को 127, जबकि पीटीआई को 123 सीटें मिली हैं। 297 सदस्यीय सदन में सरकार बनाने के लिए 149 सदस्यों की दरकार होती है। पीटीआई की सहयोगी पार्टी पीएमएल-क्यू को 7 सीटें मिली हैं। 23 निर्दलीय प्रत्याशी जीते हैं। इनमें ज्यादातर चुनाव से पहले नवाज की पार्टी से अलग होकर मैदान में उतरे हैं। पीटीआई के प्रवक्ता फवाद चौधरी ने कहा कि पीएमएल-क्यू और निर्दलीय प्रत्याशियों के समर्थन से हमारी पार्टी पंजाब में आसानी से सरकार बना लेगी।

ये भी पढ़ें...IN PICS: ‘रिवर्स स्विंग किंग’ से लेकर सियासत तक, कुछ ऐसा रहा इमरान खान का सफ़र

प्रांतीय विधानसभाओं में पीएमएलएन आगे

प्रांतीय विधानसभाओं में पीएमएलएन पार्टी पंजाब में आगे है। जहां की 297 सीटों में से 127 सीटें जीतकर वह प्रांत की सबसे बड़ी पार्टी बन गई है। हालांकि पार्टी बहुमत से दूर है। जबकि पीटीआई को 123 सीटें मिली हैं और उसकी निर्दलीयों के साथ बातचीत चल रही है जिनमें से अधिकतर ने चुनाव से पहले पीएमएलएन से अलग होकर निर्दलीय चुनाव लड़ा था।

सरकार बनाने में अहम भूमिका निभा सकते है निर्दलीय

प्रांतीय चुनाव में निर्दलीय उम्मीदवारों को 29 सीटें मिली हैं जो पंजाब में सरकार बनाने में अहम भूमिका निभा सकते हैं। इमरान की सहयोगी पीएमएलक्यू को प्रांत में 7 सीटें मिली हैं। 297 सदस्यीय सदन में सरकार बनाने के लिए 149 सीटें जीतने की जरूरत है। पीटीआई ने पंजाब में भी सरकार बनाने की पहले ही घोषणा कर दी है। माना जा रहा है कि वह सरकार बनाने में निर्दलीयों और सहयोगी दलों की की मदद ले सकती है।

किस पार्टी को मिली कितनी सीटें

सिंध प्रांत में पीपीपी को स्पष्ट बहुमत मिला है। उसने सदन की 131 सीटों में से 74 पर जीत दर्ज की है। पीटीआई 22 सीटें जीतकर दूसरे स्थान पर है। वहीं एमक्यूएम ने 16 सीटें जीती हैं। पीटीआई ने 99 सदस्यीय खैबर पख्तूनख्वा विधानसभा में 66 सीटें जीतकर दो-तिहाई बहुमत हासिल किया है। वहीं एमएमए 10 सीटें जीतकर दूसरी सबसे बड़ी पार्टी है। नवगठित बलूचिस्तान अवामी पार्टी (बीएपी) 13 सीटों के साथ बलूचिस्तान विधानसभा में शीर्ष पर है। हालांकि 51 सदस्यीय विधानसभा में बीएपी बहुमत नहीं प्राप्त कर पाई। एमएमए 9 सीटों के साथ दूसरे नंबर पर है। बलूचिस्तान नेशनल पार्टी और निर्दलीयों को 5-5 सीटें मिली हैं। पीटीआई ने 4 सीटें जीती हैं।

ये भी पढ़ें...इमरान खान क्रिकेट के मैदान पर भी विरोधियों को घर तक छोड़ कर आते थे

शहबाज खान ने की ये मांग

पीएमएल-एन अध्यक्ष शाहबाज शरीफ के बेटे हमजा शाहबाज ने कहा है कि पीटीआई को पंजाब के लोगों के जनादेश का सम्मान करना चाहिए। उन्होंने कहा कि पीएमएलएन चुनावों में धांधली के बावजूद सबसे बड़े दल के तौर पर उभरी है। इमरान खान को प्रांत में हमें सरकार बनाने का मौका देना चाहिए।

Aditya Mishra

Aditya Mishra

Next Story