उत्तर प्रदेश

यूपी पावर कॉर्पोरेशन के आंकड़ों के मुताबिक 38 प्रतिशत उपभोक्ता ऐसे हैं जिनके यहां जबसे बिजली कनेक्शन लगा है तबसे उन्होंने बिजली का बिल नहीं दिया है।

इस अवसर पर सीएम योगी ने कहा कि अब तक राज्य सरकार साढे तीन साल में तीन लाख से अधिक नियुक्तियां कर चुके हैं जिनमें पूरी पारदर्शिता के साथ नियुक्ति पत्र सोपे गए है। उन्होंने कहा कि कोरोना काल खंड के दौरान तकनीक का उचित इस्तेमाल किया गया।

रेल सुरक्षा बल उत्तर मध्य रेलवे कोविड -19 के विरुद्ध लड़ाई में हर क्षेत्र में अग्रणी योगदान दे रहा है। लॉकडाउन में स्टेशनों और रेकों की सुरक्षा से लेकर जरूरतमंदों तक भोजन और श्रमिक विशेष की कुशल संचालन के साथ साथ उत्तर मध्य रेलवे की रेलवे सुरक्षा बल ने चालू वित्त वर्ष के दौरान सभी क्षेत्रों में बेहतरीन प्रदर्शन किया है।

शहर के सबसे पुराने वर्डघाट रामलीला समिति में बिहार के दरभंगा से पहुंचे कलाकारों की है। चुनावी मौसम में वादों-इरादों से इतर ये कलाकार सीने में दर्द लेकर अभिनय करने को अभिशप्त है।

अपने सरकारी आवास पर आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा जैसी दृष्टि होती है वैसी ही सृष्टि होती है। उन्होंने कहा कि पिछले कुछ समय से जो लोग नारी गरिमा के खिलाफ खड़े हुए वह अब कटघरे में खड़े हुए है।

मुख्य आरोपी धीरेन्द्र सिंह की भाभी आशा प्रताप सिंह ने प्रशासन को दो टूक कहा है कि अगर शुक्रवार शाम 05 बजे तक उनके पक्ष की एफआईआर नहीं दर्ज की गई तो उनके घर की 07 महिलायें घर में ही आत्मदाह कर लेंगी।

एसटीएफ ने गुरुवार देर रात हाथरस पुलिस से इस मुकदमें से जुडे़ दस्तावेज लिए है और सोशल मीडिया पर हाथरस की घटना को लेकर भड़काऊ मैसेज देने वाले अकाउंट का ब्यौरा भी इक्ठ्ठा किया है।

मध्य प्रदेश पुलिस ने विकास दुबे को उज्जैन के महाकाल मंदिर परिसर से पकड़ा था। यूपी पुलिस का दावा है कि जब एटीएस की टीम विकास दुबे को कानपुर ले आ रही थी तो काफिले में शामिल एक वाहन पलट गया था। मौका देखकर विकास दुबे ने पुलिस की पिस्टल छीनकर फरार होने की कोशिश की जिसके बाद जवाबी फायरिंग में वह मारा गया था।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक गुरुवार देर रात पुलिस चेकिंग के दौरान बिना नम्बर की गाड़ी लेकर जा रहे बदमाश हसन अली को रोकने की कोशिश की तो उसने गाड़ी भगा दी और पीछा करने पर पुलिस पर फायरिंग करने लगा।

काशी विश्वनाथ मन्दिर और ज्ञानवापी मस्जिद का विवाद को लेकर हलचल तेज हो गई है। उत्तर प्रदेश सुन्नी सेंट्रल वक्फ बोर्ड की ओर से दायर याचिका को जिला जज ने स्वीकार कर लिया है। अब इस मामले पर 12 नवंबर को सुवनाई होगी।