उत्तर प्रदेश

उसके किस विटामिन की कमी है क्या बीमारी है। यह ऐसा एप है जो 38 बीमारियों का पता कर लेता है। प्रदेश में पोषण माह के पहले पखवाड़े (1 से 15 सितंबर) में आरबीएसके एप के जरिये 8405 बच्चे संदर्भित किए गए हैं। इसमें अधिकांश बच्चों में विटामिन ए की कमी पाई गई है। जबकि कुछ बच्चों में

इसके साथ ही पूर्व में कांग्रेस और हाल ही में बसपा से गठबंधन के कड़वे अनुभव के बाद अब वह किसी भी दल से गठबंधन करने में हिचक रहे है। इस मुश्किल घड़ी में ही अखिलेश को फिर अपने चाचा की याद आ गई है।

पीड़ित छात्रा के पिता ने तो शारीरिक शोषण तक का आरोप लगाया है।  इस घटना को लेकर वे कोई भी सफाई देने के बजाए आरोपों का जवाब पुलिस और न्यायालय के सामने देने की बात कह रहे है।

वाराणसी समेत पूर्वांचल के अधिकांश शहरों में बाढ़ का प्रकोप देखने को मिल रहा है। बाढ़ से हुई तबाही को देखने के लिए सीएम योगी आदित्यनाथ शुक्रवार को वाराणसी पहुंचे। योगी आदित्यनाथ शाम तकरीबन 4 बजे अस्सी घाट पहुंचे।

बनारस में बाढ़ का सितम लगातार जारी है। गंगा में आया उफान शांत होने का नाम नहीं ले रहा है। हजारों लोग आफत के बीच जिंदगी गुजार रहे हैं। बाढ़ के चलते पितृ पक्ष में श्राद्ध करने वाले लोगों को भी भारी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है।

गोरखपुर के सदर सांसद रवि किशन ने आम बाग वन टांगिया गांव में जाकर वनटांगिया समाज के कार्यक्रम में शामिल हुए और उनके साथ भोजन किया और आज ही उस गांव को गोद भी ले लिया।

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने शुक्रवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस की। उन्होंने घोषणा की दयाराम पाल समाजवादी पार्टी में शामिल हो गए है। दयाराम पाल बसपा के प्रदेश अध्यक्ष रह चुके हैं।

शाहजहांपुर यौन शोषण केस में पूर्व केंद्रीय मंत्री स्वामी चिन्मयानंद को गिरफ्तार कर लिया गया है। अदालत ने उन्हें 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। यूपी की स्पेशल इन्वेस्टीगेशन टीम (एसआईटी) ने चिन्मयानंद को शाहजहांपुर से ही गिरफ्तार किया।

शाहजहांपुर यौन शोषण केस में पूर्व केंद्रीय मंत्री और बीजेपी नेता स्वामी चिन्मयानंद को आखिरकार यूपी पुलिस के विशेष जांच दल (एसआईटी) ने गिरफ्तार कर लिया है। इसके साथ ही स्वामी चिन्मयानंद ने अपनी गलती स्वीकार कर ली है।

आशुतोष सिंह वाराणसी : गले में तख्तियां, हाथों में ढपली और आजादी के नारों से गूंजता बनारस हिंदू विश्वविद्यालय। सितंबर महीने का दूसरा हफ्ता अभी शुरू ही हुआ था कि विवाद ने एक बार फिर से यूनिवर्सिटी के दरवाजे पर दस्तक दे दी। इस बार भी कमोबेश वैसी ही तस्वीरें थी, जो 2017 में दिखाई …