इस गांव के लोग नहीं मांगते बारिश की दुआ, वजह जानकर हो जाएंगे हैरान

Published by Published: July 25, 2017 | 4:55 pm

आगरा: जहां ताजनगरी आगरा में कम बारिश होने के कारण सूखे की स्थिति हो गई है। ‘बारिश हो जाए’ इसके लिए कई जगह पूजा अर्चना और ताप भी किया जा रहा है, वहीं जिले का एक गांव ऐसा भी है, जहां लोग नहीं चाहते कि वहां बारिश हो।

बारिश न होने पर लोग इंद्रदेव को मनाने के तमाम जतन करते हैं, लेकिन ग्राम पंचायत बैनई में लोग ये दुआ नहीं मांगते। बारिश का मौसम यहां रहने वालों के लिए मुश्किलों की सौगात लेकर आता है। यहां की कच्ची गलियां और टूटी नालियां लोगों को घरों में कैद कर देती हैं। गंदा पानी घरों में घुस जाता है।

आगरा शहर से 40 किलोमीटर दूर ग्राम पंचायत बैनई में कुल तीन गांव बैनई कलां, बैनई खुर्द और गढ़ी ढहर है। इनकी आबादी 10 हजार के करीब है। ग्रामीणों को इस बात की कसक है कि जीतने के बाद कोई जनप्रतिनिधि यहां की हालत देखने तक नहीं आता। तीनों गांव में जर्जर खरंजा और नाली की समस्या है। नालियों की ऊंचाई खरंजों से ज्यादा हैं। इससे गंदा पानी खरंजे पर ही भरा रहता है।

बारिश के दिनों में यह समस्या विकराल हो जाती है। गंदा पानी घरों में घुस जाता है। नतीजा रिश्तेदार भी आने से परहेज करते हैं। सबसे अधिक परेशानी बच्चों को होती है। गलियों और स्कूल परिसर में भी पानी भरा रहता है। गांव की नालियों का पानी स्कूल के मैदान में भर जाता है। बच्चों को खेलने-कूदने में भी दिक्कत आती है।

आगे की स्लाइड में जानिए इस गांव के लोगों का क्या है कहना

नहीं होती है कोई सुनवाई
ग्राम में लगभग दो सौ निजी शौचालय हैं, लेकिन अधिकांश ग्रामीण खुले में शौच जाते हैं। दो माह पूर्व गांव का चयन ओडीएफ योजना में हुआ है। इसके अंतर्गत 350 शौचालय बनाए जा रहे हैं।

पूर्व माध्यमिक विद्यालय की चहारदीवारी तक नहीं है। हालांकि कागज में दीवार बना दी गई है। ग्राम प्रधान ने बताया कि कई बार शिकायत की, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई।

ग्राम में पेयजल समस्या भी है। 90 में से 60 हैंडपंप खराब हैं। 21 टीटीएसपी टंकियां हैं। इनमें 18 सही हैं, लेकिन सप्लाई की लाइन जगह-जगह लीक करती है। बिजली कटौती के चलते यह समस्या और बढ़ जाती है।

क्या कहना है स्थानीय लोगों का
ग्रामीण लोकप्रकाश ने बताया की आने-जाने में दिक्कत का सामना करना पड़ता है। बारिश में के दिनों में परेशानी बढ़ जाती है। बीएसएनएल ने सड़क किनारे लाइन बिछाने को गड्ढे खोद दिए हैं। इससे ट्रैक्टर आदि वाहन से फसल बिक्री को ले जाने में दिक्कत होती है।

वहीं शेर सिंह ने बताया कि बैनई कलां विद्यालय के बाहर पानी भर जाता है। बच्चों को गंदे पानी से गुजरना पड़ता है। जलभराव की समस्या से निजात मिलनी चाहिए। वहीं ग्राम प्रधान धर्मेन्द्र ने बताया की हैंडपंप के रीबोर के लिए लिस्ट भेज दी है। बीएसएनएल के गड्ढे की शिकायत कर चुके हैं। जलभराव की समस्या जल्द दूर की जाएगी।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App