×

अखिलेश ने मेधावी छात्रों को बांटे लैपटॉप, कहा- महागठबंधन तो होगा ही

Anoop Ojha

Anoop OjhaBy Anoop Ojha

Published on 13 Aug 2018 9:51 AM GMT

अखिलेश ने मेधावी छात्रों को बांटे लैपटॉप, कहा- महागठबंधन तो होगा ही
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

लखनऊ : आज समाजवादी प्रदेश कार्यालय पर एक कार्यक्रम में सपा मुखिया अखिलेश यादव ने 19 मेधावी छात्रों को लैपटॉप बांटा। लैपटॉप पाने वालों में 4 बच्चे सीतापुर और और 15 बच्चे बाराबंकी से हैं। छात्रों को लैपटॉप बांटने के बाद पूर्व मुख्यमंत्री ने बीजेपी सरकार पर जम कर निशााना साधा।अखिलेश यादव ने भाजपा सरकार की नीतियों को आड़े हाथों लेते हुए कहा ये तो गूगल को भी घुमा देतें हैं। कह रहे हैं कि हम 73+, मैं कहता हूँ भूल जाये 70+ कहिये क्यूंकि 3 तो आप हार चुके हैं। सपा मुखिया ने कहा सबको आबादी के आधार पर आरक्षण दिया जाए। यहां पिछड़े वर्ग का सम्मेलन हो रहा है। उधर पुलिस में भर्ती हुए 1400 पिछडो को निकाल दिया गया। 700 शिक्षा मित्र मर गए।

गठबंधन तो होगा ही

अखबारों में इस महागठबंधन के बारे में बड़े बड़े interview आ रहे हैं। गठबंधन तो होगा ही। एक डिप्टी सीएम शास्त्री भवन गए। नाम की तख्ती लगा दी। चीफ सेक्रेटरी और पीएस होम को बुला लिया। जब सीएम को पता चला तो अब तक उनकी तख्ती का पता नही। दोबारा उस कुर्सी पर नहीं बैठ पाए।

अखिलेश ने मेधावी छात्रों को बांटे लैपटॉप, कहा- महागठबंधन तो होगा ही

हार्वर्ड यूनिवर्सिटी के स्टूडेंट अनुराग भास्कर को भी सम्मानित किया

हार्वर्ड यूनिवर्सिटी के स्टूडेंट अनुराग भास्कर को भी अखिलेश ने सम्मानित किया लैपटॉप देकर

अनुराग भास्कर ने कहा कि हार्वर्ड जाने से पहले आपसे मिलना चाहते थे। मुलायम सिंह नेे अपने समय मे लोहिया के नाम पर लॉ यूनिवर्सिटी बनाई। इसका मेरे सफर में बड़ा योगदान रहा। मैं आपके लैपटॉप स्कीम का लाभार्थी रहा। इसने मेरा काफी साथ दिया। बाल अधिकार संरक्षण आयोग में भी काम किया। आपको धन्यवाद देना चाहता था।

मिलेंगी 18 लाख कहानियां

पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश ने कहा कि यादव अनुराग भास्कर को लोहिया लॉ यूनिवर्सिटी में पढ़ने के बाद हार्वर्ड जा रहे हैं। हमने 18 लाख लैपटॉप बांटे थे। यह तो एक कहानी है। खोजा जाए तो 18 लाख कहानियां मिलेंगी। अपनी सरकार में भी बिना भेदभाव के लैपटॉप बांटा और आज भी बिना भेदभाव के लैपटॉप दिया। बिना अच्छी पढ़ाई के हम आगे नही बढ़ सकते।

दुनिया के साथ इनका मुकाबला होने जा रहा है

सपा मुखिया ने आगे कहा बच्चे अपना भविष्य बदलना चाहते हैं। हम उनकी मदद कर रहें है। हम आज की सरकार को याद दिलाना चाहते थे कि आपने जो चुनाव में घोषणा की थी वह लैपटॉप नहीं बंट पाए हैं। सरकार को याद दिलाने के लिए काम कर रहा हूँ। क्योंकि सरकार ने धोखा दिया है। जब हम लैपटॉप बाट रहें थे तब कहा गया कि लैपटॉप सिर्फ यादव को दिए जा रहें है। उन्होंने कहा हालांकि मोबाइल अब ज्यादा पहुंच गए हैं। लैपटॉप पूरा का पूरा परिवार देखता है।

यूपी के जो टॉपर 11 बच्चे हैं उनको दे रहे हैं। आगे बढ़ेंगे तो दुनिया के साथ इनका मुकाबला होने जा रहा है। आज रायबरेली का aiims चालू हो गया है। इसमें समाजवादियों का बड़ा योगदान है। क्योंकि अपनी सरकार में एक पैसा नहीं लिया बल्कि वह जो जमीन चाहते थे उसे फ्री में दिया। गोरखपुर के aiims के लिए जमीन दी आज उसका पता नहीं है।

पूर्व मुख्यमंत्री ने सवाल किया कि डिफेन्स कॉरिडोर तो बनेगा पर हम कैंट की सड़क चौड़ी कराना चाहते थे। जब इसके लिय परमिशन नहीं तो डिफेंस कॉरिडोर कैसे बनाएंगे। हम बीजेपी के लोगों से कहना कहते हैं कि उनके पास कम उनसे ज्यादा हामारे पास बैकवर्ड हैं। पर काम में उनसे ज्यादा फॉरवर्ड है। उहोंने भाजपा पर तंज कसते हुए कहा वह सफारी वाला गूगल मैप से चल रहा था। गलत रास्ते पर चल रहा था। भाजपा कम से कम लैपटॉप वाला वादा पूरा कर दो। कैराना चुनाव हारने के बाद कहा कि हमने गन्ना के लिए 8 हजार करोड़ दे दिया। किसी किसान का पूरा पेमेंट हुआ।

सांसद के लोकसभा की मेट्रो काट दी

पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश ने कहा कि नमामि गंगा, हमारे लिए तो गंगा मां हैं। उनके साथ इतना बड़ा धोखा जनता देख रही है। सिर्फ 900 मीटर एक तरफ बन जाये तो यह पूरी शहर में साफ हो जाये। वरुणा नदीं की सफाई का काम शुरू हो गया था। कानपुर की काली नदी की सफाई हुए बिना गंगा कैसे साफ हो सकती है। पैसा तो खत्म हो गया। नदी अभी नही साफ हुआ। मुरलीमनोहर जोशी और हमने कानपुर को मेट्रो दिया। आज के उप राष्ट्रपति उसमे शामिल थे। भाजपा ने अपने ही सांसद के लोकसभा की मेट्रो काट दी।

असली संपत्ति होनहार बच्चे हैं

उदय प्रताप सिंह ने कहा देश की असली संपत्ति होनहार बच्चे हैं। पिछली सरकार में लैपटॉप बांटने का लाभ दिखाई दे रहा है।इसका उदाहरण अनुराग भास्कर हैं।

Anoop Ojha

Anoop Ojha

Excellent communication and writing skills on various topics. Presently working as Sub-editor at newstrack.com. Ability to work in team and as well as individual.

Next Story