11 सौ वर्ग मीटर में बनेगा भाजपा का हाईटेक क्षेत्रीय कार्यालय

कानपुर बुंदेलखंड का क्षेत्रीय कार्यालय 11 सौ वर्ग मीटर में बनकार तैयार होगा। क्षेत्रीय कार्यालय पूरी तरह से हाईटेक होगा। इस कार्यालय के अंतर्गत 10 लोकसभा सीटों और 52 विधानसभा सीटों पर नजर रखी जाएगी। गुरूवार को शाम लगभग 4 बजे बीजेपी के कार्यकारी राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा भूमि पूजन करने के लिए आ रहे है।

कानपुर: कानपुर बुंदेलखंड का क्षेत्रीय कार्यालय 11 सौ वर्ग मीटर में बनकार तैयार होगा। क्षेत्रीय कार्यालय पूरी तरह से हाईटेक होगा। इस कार्यालय के अंतर्गत 10 लोकसभा सीटों और 52 विधानसभा सीटों पर नजर रखी जाएगी। गुरूवार को शाम लगभग 4 बजे बीजेपी के कार्यकारी राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा भूमि पूजन करने के लिए आ रहे है। उनके साथ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह और प्रदेश संगठन महामंत्री सुनील बंसल मौजूद रहेंगे।

ये भी देखें:बीकानेर लैंड डील: वाड्रा की बढ़ सकती हैं मुश्किलें, केस में आज हो सकती है अंतिम बहस

नौबस्ता मौरंग मंडी में भाजपा का अत्याधुनिक कार्यालय बनने जा रहा है। जिसमें उत्तर जिलाध्यक्ष, दक्षिण जिलाध्यक्ष और ग्रामीण जिलाध्यक्ष के कार्यालय होगें। इसके साथ कानपुर बुदेंलखंड के क्षेत्रीय अध्यक्ष का भी कार्यालय होगा। इसके साथ ही मीटिंग हॉल, सभागार, रेस्टरूम, कार्यकर्ता हॉल और मीडिया के लिए समुचित व्यावस्था होगी। इसके साथ ही आईटी सेल हाल और संचार से सुव्यावस्थित होगा।

सबसे खास बात ये है कि नौबस्ता मौरंग मंडी को सौ बेड का सुपर स्पेशियलिटी हास्पिटल बनवाने के लिए जमीन खाली कराई गई थी। लेकिन शहरवासियों को अभी अस्पताल के लिए इंतजार करना होगा। नौबस्ता मौरंग मंडी की 11 सौ वर्ग मीटर जमीन पर भाजपा का क्षेत्रीय कार्यालय खुलने जा रहा है।

ये भी देखें:बाहुबली का जबरा फैन, टावर पर चढ़ कर की एक्टर से ये मांग

कार्यालय के लिए बीजेपी ने केडीए से 11 सौ वर्ग मीटर जमीन खरीदी है। आज से लगभग 27 वर्ष पहले मौरंग मंडी को बारादेवी मंदिर के पास से नौबस्ता बाईपास के किनारे शिफ्ट कर दिया गया था। लेकिन नौबस्ता मौरंग मंडी की जमीन पर सौ बेड का सुपर स्पेशियलिटी हास्पिटल प्रस्तावित था। बीते 12 र्माच 2018 को केडीए दस्ते ने भारी पुलिस फोर्स के साथ पहुंचकर कब्जेदारों से जमीन खाली करा ली थी। मौरंग मंडी की 34 हजार वर्ग मीटर जमीन को केडीए ने अपने कब्जे में ले लिया था।

केडीए अधिकारियों का कहना है कि अस्पताल के 10 हजार वर्ग मीटर जमीन अस्पताल के लिए दे दी गई है। वहीं स्वास्थय विभाग का कहना है कि शासन से अस्पताल की स्वीकृति मिल गई है। शासन को अस्पताल का बजट बनाकर भेज दिया गया है। जैसे ही बजट पास हो जाएगा अस्पताल के निर्माण कार्य शुरू हो जाएगा।

ये भी देखें:बीकानेर लैंड डील: वाड्रा की बढ़ सकती हैं मुश्किलें, केस में आज हो सकती है अंतिम बहस

कानपुर बंदेलखंड को भाजपा का सबसे मजबूत किला माना जाता है। 2019 के लोकसभा में बीजेपी ने कानपुर बुंदंलखंड की 10 मे से 10 सीटों पर कब्जा किया था। वहीं 2017 के विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने 52 विधानसभा सीटों में से 47 सीटों पर भगवा फैराया था।